loader

भारतीय अर्थव्यवस्था जो अब दौड़ लगाने को तैयार है: IMF

Foto

 

 

व्यापार के समाचार  

 

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने कहा की करीब 2.6 लाख करोड़ डॉलर की भारतीय अर्थव्यवस्था एक ऐसा हाथी है, जो की दौड़ लगाने को तैयार है, आईएमएफ ने कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था में तेजी से आ रही है, और आगे बढ़ने की काफी संभावना है।  

 

यह भी पढ़े: ईरान पर फिर लगे अमेरिकी प्रतिबंध... भारत के लिए मुश्किलें बढ़ी

 

गरीबी से निकलने में रहा सफल

अपनी रिपोर्ट में आईएमएफ ने कहा की, दुनिया की सबसे तेज बढ़ने वाली, अर्थव्यवस्था के रूप में भारत ग्लोबल ग्रोथ में करीब 15 फीसदी का योगदान कर रहा है। भारतीय अर्थव्यवस्था ने लाखों लोगों को गरीबी से बाहर निकाला है। भारत के विदेशी निवेश दरवाजे खोल रही है, हालांकि आईएमफ ने बढ़ती महंगाई की ऊंचीई के  दर को लेकर चिंता जताई है।

 

यह भी पढ़े: पाकिस्तान जैसे तीन देश अकेली एप्पल कंपनी खरीद सकती है

 

'भारतीय अर्थव्यवस्था आकलन 2018' में आईएमएफ ने कहा है नोटबंदी की वजह से जीएसटी लागू होने से आई मुश्किलों से अब जीडीपी के आगे बाहर निकल चुका है। साल 2017-18 में वृद्धि दर 6.7 फीसदी थी और 2018-19 में इसमें 7.3 फीसदी की वृद्धि होने का अनुमान है।

 

Related image

 

आईएमएफ के भारत में कार्यकारी निदेशक सुबीर गोकर्ण और उनके वरिष्ठ सलाहकार हिमांशु जोशी द्वारा जारी बयान में कहा गया है। ग्लोबल ग्रोथ में आये लंबे समय से जारी सुस्ती को लेकर  निवेश में कमी और बैंकिंग तथा कॉरपोरेट सेक्टर के खातों पर बने दबाव ने भारत के भी तरक्की की संभावना पर असर डाला है, लेकिन इन चुनौतियों के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था तेज गति से बढ़ रही है।

 

यह भी पढ़े: केन्द्रीय कर्मचारियों के लिए परेशानी का सबब बन सकती है आरबीआई की चेतावनी

 

आईएमएफ भारत को वैश्विक तरक्की का लंबे समय तक का स्रोत मानता है यह चीन और अमेरिका के बाद वैश्विक आर्थिक तरक्की का प्रमुख वाहक है।

Related image

 

यह भी पढ़े: भारत के हित में व्यापार संधि का आकलन करेगी कमेटी

 

जीएसटी की तारीफ

सलगाडो का मानना है कि नई टैक्स व्यवस्था से दीर्घकालिक स्तर पर भारत को काफी फायदा होगा उन्होंने कहा यह करना कठिन था दूसरे देशों को तो इसके लिए जूझना पड़ रहा है। भारत में यह काफी जटिल था क्योंकि यहां 29 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मनाना था यह एक बड़ी उपलब्ध‍ि है।

 

यह भी पढ़े: फिर अधर में बेनामी अधिनियम के तहत अभियोजन का मामला

 

नौकरियों के लिए अच्छी नीतियां

आईएमएफ ने कहा है कि भारत ने नौकरिया और तेज आर्थि‍क वृद्ध‍ि के लिए अच्छी नीतियां अपनाई जा रही  हैं। जीएसटी से औपचारिक क्षेत्र में आर्थ‍िक गतिविधि‍यां बढ़ रही हैं। जिससे बेहतर गुणवत्ता वाली और भरोसेमंद नौकरियों ही मिलेगी होगा आईएमएफ ने कहा कि, बैंकरप्शी कोड के अलावा सरकार और रिजर्व बैंक ने बैंकिंग में सुधार के लिए कई कदम उठाए गए है।

 

 

leave a reply

व्यापार के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी