massiar-banner

फोर्टिस को सेबी की चेतावनी

Foto

 

व्यापार के समाचार/Business news

 

पैसा जमा करों नहीं तो चलती रहेगी जांच


 

नई दिल्ली। फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड कंपनी के पूर्व मालिक सिंह बंधुओं मलविंदर सिंह और शिविंदर सिंह पर अरबों के घोटाले का आरोप लगा है। सेबी ने चेतावनी जारी करते हुए पूरा पैसा वापस लौटाने का आदेश दिया है। सेबी ने यह भी कहा कि जब तक रुपए वापस नहीं कर दिए जाते घोटालों की जांच नहीं रुकेगी। साथ ही यह भी चेतावनी जारी की है कि तीन म​हीने के भीतर पैसा वापस करें। 

 

बड़े भाई पर किया था केस

 

बताते चलें कि कंपनी के पूर्व प्रवर्तक शिविंदर मोहन सिंह ने राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) में अपने ही बड़े भाई मालविंदर सिंह के खिलाफ केस ठोका था। हालांकि, उन्हों ने कुछ सोचकर केस को वापस लेने के लिए एनसीएलटी में ही आवेदन भी किया था। दरअसल, शिविंदर का आरोप था कि मालविंदर तथा गोधवानी की गतिविधियों के कारण कंपनियों और उनके शेयरधारकों का हित बहुत ही अधिक प्रभावित हुआ। उन्होंने यह भी कहा कि केस वापस लेने के बाद एनसीएलटी में मध्यथता की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। इससे भी यदि बात नहीं बनी तो वह दोबरा अपील करेंगे। 


कुप्रबंधन का आरोप

 

शिविंदर ने यह भी आरोप लगाया था कि कुप्रबंधन के कारण शेयर होल्डर और कर्मचारियों को क्षति पहुंचाने का काम किया गया। उन्होंने याचिका में रेलीगेयर के पूर्व सीएमडी सुनील गोधवानी को भी इस आरोप को लेकर प्रतिवादी बनाया। बताते चलें कि फोर्टिस के शेयरधारकों ने पिछले महीने मलयेशिया की आईएचएच के साथ 7,100 करोड़ रुपए का सौदा किया था। इस सौदे को मंजूरी भी दे दी गई थी। फिलहाल अब देखना यह होगा कि दोनों भाईयों पर सेबी की चेतावनी का क्या असर होता है। 

leave a reply

व्यापार के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी