loader

महंगाई से मिली राहत...

Foto

व्यापार के समाचार/ BUSSINESS NEWS

CPI अपने निचले स्तर पर लेकिन IIP में गिरावट से चिंता

 

नई दिल्ली। अगस्त महीने में ग्राहकों के लिए राहत की खबर है। अगस्त में रिटेल महंगाई 3.7 फीसद पर रही है जो जुलाई में 4.2 फीसद के स्तर पर थी। जानकारी के लिए बता दें कि अगस्त महीने में सीपीआई ने 10 महीेने का निचला स्तर छूआ है।  अगस्त में खाने-पीने की चीजों की महंगाई घटी है। अगर, महीने दर महीने आधार पर बात की जाए तो अगस्त में खाद्य महंगाई दर 1.37 फीसद से कम होकर 0.29 फीसद रही है। वहीं दूसरी ओर महीने दर महीने आधार पर अगस्त में ईंधन और बिजली की महंगाई दर में तेजी दर्ज की गई है। अगस्त में ईंधन और बिजली की महंगाई दर 8.47 फीसद रही है।

 

ये भी पढ़ें- डॉलर के सामने रुपया लुढ़का, 73 के करीब पहुंचा

 

इसी तरह महीने दर महीने आधार पर अगस्त में हाउसिंग की महंगाई दर 7.59 फीसद रही है। जुलाई में यह 8.3 फीसद रही थी। अनाज की महंगाई दर की बात करें तो यह जुलाई के 2.9 फीसद से बढ़कर 3 फीसद रही है। वहीं, अगस्त में सब्जियों की महंगाई दर (-2.2) फीसद की तुलना में (-7) फीसद रही है। अगस्त में कपड़ों और जूतों की महंगाई दर 5.28 फीसद से कम होकर 4.88 फीसद रही है। वहीं, दालों की महंगाई दर अगस्त के (-8.91) फीसद की तुलना में (-7.76) फीसद रही है। जुलाई महीने में इंडस्ट्री ग्रोथ की रफ्तार धीमी पड़ी है। जुलाई में आईआईपी ग्रोथ 6.6 फीसद रही है। जून में यह 7 फीसद के स्तर पर रही थी।

 

ये भी पढ़ें- भगोड़े मेहुल चोकसी की मुश्किलें बढ़ी!

 

महीने दर महीने आधार पर बात की जाए तो जुलाई में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की ग्रोथ 7 फीसद रही है। यह जून में 6.9 फीसद रही थी। वहीं, दूसरी ओर जुलाई में माइनिंग सेक्टर की ग्रोथ 6.6 फीसद से घटकर 3.7 फीसद रही है। इस दौरान इलेक्ट्रिसिटी सेक्टर की ग्रोथ 8.5 फीसद से कम होकर 6.7 फीसद रही है। कैपिटल गुड्स की ग्रोथ की बात करें तो यह 9.6 फीसद से घटकर 3 फीसद के स्तर पर रही है। वहीं, दूसरी ओर प्राइमरी गुड्स की ग्रोथ 9.3 फीसद से गिरकर 6.9 फीसद रही है।

 

 

 

 

leave a reply

व्यापार के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी