47 लाख रुपए की चोरी का खुलासा, जांच के घेरे में एसडीएम

Foto

अपराध के समाचार/crime news

 

फर्रुखाबाद। शहर कोतवाली क्षेत्र में एसडीएम के आवास से हुई चोरी का खुलासा स्वाट टीम व पुलिस ने कर लिया है। पुलिस ने इस मामले में एसडीएम के निजी कार चालक को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 47.30 लाख रुपये बरामद कर लिए हैं। चोरी का खुलासा होने से एसडीएम ब्रिज किशोर दुबे खुद जांच के घेरे में आ गए हैं। आखिर इतनी संपत्ति उनके पास आई कहां से। कयमगंज में एक माह पहले एसडीएम रहे श्री दुबे इतनी बड़ी रकम कहां से लाये इसका उनके पास कोई जबाव नहीं है।

 


ताला तोड़कर चोरी


पुलिस कप्तान सन्तोष कुमार मिश्रा ने बताया कि क़ायमगंज में एसडीएम के पद पर कार्यरत रहे ब्रिजकिशोर दुबे इस समय जिले में अतिरिक्त एसडीएम के पद पर कार्यरत हैं। वह शहर कोतवाली के पांचालघाट स्थिति नारायण आश्रम में निजी आवास में रह रहे हैं। दो दिन पहले उनके कमरे का ताला तोड़ कर चोरी कर ली गई। जिसकी रिपोर्ट शहर कोतवाली में दर्ज कराई गई। एसपी ने बताया कि एसडीएम के यहां से हुई चोरी को लेकर बड़ा सवाल खड़ा हो गया है। स्वाट टीम प्रभारी कुलदीप दीक्षित और शहर कोतवाल राजेश पाठक ने एसडीएम के निजी चालक आशीष अग्निहोत्री निवासी बघऊ जिला हाथरस को हिरासत में लेकर पूछ ताछ की तो उसने चोरी की घटना को अंजाम देने की बात स्वीकार कर ली। पुलिस ने उसके कब्जे से 47.30 लाख रुपया बरामद कर लिया। 

 

 


2 हजार के नोट बरामद


उन्होंने बताया कि सभी नोट 2 हजार व पांच पांच सौ के बरामद हुए हैं। घटना वाले दिन जब पत्रकारों ने एसडीएम दुबे से कितने की चोरी हुई बाकी जानकारी चाही तो वह कन्नी काट गए थे। पुलिस कप्तान श्री मिश्रा ने बताया कि इतनी बड़ी रकम बरामद होने की सूचना शासन, डीजीपी व आयकर विभाग को भेज दी गई है। एसडीएम दुबे के पास इसका कोई जबाव नहीं है कि वह इतनी बड़ी धनराशि कहां से लाये हैं। अब वह खुद ही जांच के घेरे में आ गए हैं। 

 

यह भी पढ़ें:   नाबालिग ने दरोगा पर लगाया रेप का आरोप, सच जान उड़ जाएंगे होश

यह भी पढ़ें:   आजम खान के खिलाफ दर्ज हुआ एक और मुकदमा

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी