अपराधियों पर अंकुश लगाने में पुलिस नाकाम, हत्या कर आरोपी फरार

Foto

  Crime news ,अपराध समाचार

 

रोहित रायल सिद्दीकी

फर्रुखाबाद। पुलिस की लापरवाही के चलते अपराधियों ने घटना पर घटना को दिया अंजाम देते चले आ रहे हैं। 3 दिन पहेले दिनदहाड़े सरकारी राशन की दूकान से अपहृत सरकारी राशन विक्रेता की हत्या कर शव बोरे में भरकर नाले में फेंक दिया गया। पुलिस ने शव बरामद कर जांच पड़ताल की खाना पूर्ति शुरू कर दी। आपको बताते चलें बीते 14 मार्च को शहर कोतवाली के कादरी गेट निवासी रामनरेश तिवारी अपने चांदपुर स्थित राशन की दुकान से गायब हो गये थे। उनकी पत्नी मुन्नी देवी ने पुलिस को तहरीर देकर अवगत कराया था।

 

मुन्नी देवी का मौके से मोबाइल, चप्पल, मोबाइल आदि सामान भीतर पड़ा मिला था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी। लेकिन उनका कोई सुराग नहीं मिल रहा था। आवास विकास के सेक्टर 1 में पूर्व भाजपा विधायक कुलदीप गंगवार के मकान के पीछे और रिटायर्ड इंजीनियर पृथ्वी राम चौहान के मकान के सामने मोहल्ले के कुछ लोगों ने एक सफेद प्लास्टिक के बोरे में कुछ पड़ा देखा। मोहल्ले के लोगों ने नगर पालिका को सूचना दी। 


पालिका का एक सफाई कर्मी मौके पर पंहुचा और उसने बोरे को खोलकर देखा लेकिन बोर में किसी आदमी की लाश मिली। बोरे में लाश होने से हडकंप मच गया। एसपी डॉ अनिल मिश्रा, सीओ सिटी रामलखन सरोज, कोतवाल रवि श्रीवास्तव व चौकी इंचार्ज राजेश्वर सिंह मौके पर आ गये। उन्होंने परिजनों को सूचना दी। जिसके बाद कोटेदार का भाई राजनारायण तिवारी ने मौके पर जाकर शिनाख्त कर ली। रामनरेश तिवारी आल इंडिया फेयर प्राइस शॉप डीलर्स फेडरेशन के उपाध्यक्ष है। शव सफेद बोरी के भीतर एक बोरे में बंद मिला।

 

 

यह भी  पढ़ें-  दोस्तों ने अपने दोस्त को घर से बुलाकर  चाकू से मार 

यह भी पढ़ें- मुरादाबाद पुलिस का बेहद चौंकाने वाला कारनामा

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी