असली वर्दी में फर्जी लेफ्टीनेंट कर्नल

Foto

क्राइम समाचार/ CRIME NEWS

नौकरी के नाम पर लोगों से करता था ठगी

इंटरव्यू से भर्ती के नाम करता था वसूली

 

लखनऊ। राजधानी में पुलिस प्रशासन को कामयाबी हाथ लगी है, बता दें कि राजधानी की पुलिस ने एक ऐसे फर्जी लेफ्टिनेंट कर्नल को धर दबोचा है जो सेना में इंटरव्यू द्वारा भर्ती के नाम पर लोगों से लाखों रुपए ऐंठ कर अपना काला धंधा चलाता था। हजरतगंज थाना और साइबर सेल की ओर से पकड़े गए फर्जी लेफ्टिनेंट कर्नल की पहचान बहराइच निवासी अरविंद मिश्रा के रुप में हुई है। बता दें कि जालसाज के पास से आर्मी की वर्दी, लैपटॉप, लाइसेंसी रिवाल्वर समेत कई मोबाइल फोन बरामद हुए हैं। फिलहाल हजरतगंज पुलिस और साइबर क्राइम सेन की टीम ने फर्जी लेफ्टिनेंट कर्नल को गिरफ्तार करके पूछताछ शुरु कर दी है।

 

यह भी पढ़ें- ये तरकुलवा पुलिस है जनाब! किसी के खिलाफ दर्ज कर लेती है मुकदमा  

 

मिडिया ब्रीफिंग में एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि इस जालसाज ने इकोनॉमिक्स से 1997 में एमए किया है और इसने सीडीएस का एक्जाम दिया था, जिसमें यह विफल रहा। उसके बाद इसने फर्जी आर्मी वाला बनने की ठानी। एसएसपी नैथानी ने और कई चौकाने वाले खुलासे भी किये, उन्होंने बताया कि इसने दो शादियां की है पहली शादी 2003 में और दूसरी शादी 2009 में की है।

 

यह भी पढ़ें- PayTM के मालिक को ब्लैकमेल कर मंगा 20 करोड़ पुलिस ने किया गिरफ्तार

 

वहीं उन्होंने बताया कि इसके  पास से एटीएम कार्ड, वालमार्ट कार्ड समेत एक 32 बोर की लाइसेंसी रिवाल्वर और एक कार जिस पर आर्मी का लोगो लगा था वो बरामद हुई है। एसएसपी ने बताया कि यह लोगों से फर्जीवाणा करके अपना जीवन यापन करता था और सोशल साइट्स पर अपनी प्रोफाइल बनाकर महिलाओं से बातचीत करता था और उनको अपने झांसे में फंसाता था।

 

 

 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी