अवैध संबंध में बन रहा था मुसीबत, इसलिए टुकड़े-टुकड़े कर की थी हत्या

Foto

Crime News,अपराध समाचार 


नोएडा। नोएडा स्थित बिसरख कोतवाली इलाके के वृंदावन गार्डन में 9 दिसंबर को कटे हुए सिर के साथ पुलिस ने शव बरामद किया था। पुलिस ने 4 दिन में ही मामले का खुलासा कर लिया है। पुलिस ने शव की शिनाख्त एमपी निवासी भूप सिंह के नाम से की है। खुलासे में सामने आया है कि हत्या में किसी और का नहीं बल्कि मृतक की पत्नी का ही हाथ है। पुलिस आरोपी पत्नी रजनी और उसके प्रेमी अनुरुद्ध को हिरासत में लिया है। पुलिस के मुताबिक दोनों के बीच अवैध शारीरिक संबध थे। भूप सिंह दोनों के संबंध में मुसीबत बन रहा था। इसलिए उसे रास्ते से हटाने को लेकर साजिश रची और हत्या कर दी। 

 


धनीराम ने की थी शिकायत


बताते चलें कि पुलिस से एमपी के छतरपुर निवासी धनीराम ने अपने भाई भूप सिंह काफी दिनों से लापता है। इसके बाद पुलिस धनीराम को लेकर पोस्टमार्टम पहुंची। धनीराम ने भूप सिंह ने पत्नी पर ही हत्या का आरोप लगाया था। धनीराम ने ही बताया कि 6 महीने पहले झांसी में मजदूरी के दौरान रजनी की मुलाकात गांव गोयडी (महोबा) निवासी अनुरुद्ध उर्फ लल्लू से हुई थी। रजनी बच्चों और पति को छोड़का प्रेमी अनुरुद्ध के साथ भाग गई थी।

 


पत्नी के साथ रहने लगा


जब उसके भाई को इस बात का पता लगा तो वह शाहबेरी पहुंचा और पत्नी रजनी के साथ ही रहने लगा। वहीं, आरोपी अनुरुद्ध अपने गांव रवाना हो लिया। इसके बाद  दिवाली के दो-तीन बाद दोबारा शाहबेरी में लौट आया। रजनी और अनुरुद्ध फिर एक दूसरे से मिलने लगे। इस बात का भूप सिंन ने विरोध जताया। यह बाद रजनी और अनुरुद्ध को नागवार गुजरी और भूप सिंह की हत्या का षड्यंत्र रचा। इसके बाद भूप सिंह को शराब पिलाने के बाद गला रेतकर हत्या कर दी। शिनाख्त छुपाने के लिए लाश को झाड़ियों में फेंक दिया।

 

यह भी पढ़ें:   किसान नीतियों को लेकर फिर कठघरे में भाजपा सरकार

 

यह भी पढ़ें:     रैली के बाद बढ़ी शिवपाल की​ डिमांड

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी