दरोगा पुत्र की छेड़छाड़ से आहत छात्रा ने दूसरी मंजिल से लगायी छलांग

Foto

अपराध के समाचार/crime news

गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती,पिता ने पुलिस पर भी लगाये आरोप

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में एक चौकाने वाली वारदात सामने आयी है जिसमें एक दरोगा पुत्र के द्वारा काफी समय से की जा रही छेड़ छाड़ से आहत एक छात्रा ने गुरुवार को अपने घर की दूसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या का प्रयास किया,घयल छात्रा को उपचार के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार इंदिरा नगर में रहने वाले एक एलआईयू के कर्मचारी की बेटी को कल्याणपुर गुडंबा में रहने वाले एक दरोगा का पुत्र राजकुमार पिछले काफी समय से फोन पर व मिलकर परेशान कर रहा था। पीड़िता के पिता ने अपनी तहरी में कहा है कि करीब साल भर पहले जब उसकी बेटी पॉलीटेक्निक में पढ़ाई कर रही थी तब राजकुमार ने उसका पीछा करना शुरु किया और उससे दोस्ती बना ली।

इसकी जानकारी मिलने पर छात्रा के पिता ने राजकुमार को फटकार लगायी तो उसने उसका पीछा करना छोड़ दिया। अभी कुछ दिनो पूर्व ही छात्रा ने कपूरथला स्थित एक कोचिंग ज्वान की तो राजकुमार ने उससे फिर से बातचीत शुरु कर दी। पुलिस का कहना है कि आरोपी ने छात्रा की अपने साथ एक वीडियो क्लिप भी बना रखी थी और उसी को लेकर वह उस पर साथ चलने का दबाव बना रहा था।

छात्रा के पिता का आरोप है कि बुधवार को उनकी बेटी जब कोचिंग जा रही थी तभी आरोपी ने उसे टैम्पो से जबरन उतार कर कार मे बैठाने की जब छात्रा ने विरोध किया तो उसने उसके साथ गाली गलौज व मारपीट भी की। एक रिष्तेदार ने रोकने का प्रयास किया तो उसने उसकी गाड़ी की चाभी निकालने के साथ उससे भी मारपीट की।

पिता का कहना है कि जब वे इसकी रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए इंदिरा नगर थाने गये तो वहां के इंस्पेक्टर ने उन्हे खुर्रम नगर पुलिस चौकी भेज दिया। जब वे चौकी गये तो वहां पर चौकी इंचार्ज ने दरोगा पुत्र से समझौते का दबाव बनाने के साथ ही तहरीर बदलने की सलाह दी। जब उनकी कोई सुनवाई नही हुई तो वे वापस घर लौट आये।

छात्रा के पिता का कहना है कि शिकायत पर कोई कार्रवाई न होने से राज कुमार का हौसला बढ़ता गया। उसने बृहस्पतिवार को छात्रा को मैसेज भेजने के साथ कई बार कॉल की। तेजाब फेंककर जिंदगी तबाह करने व वीडियो वायरल करने की धमकी दी। इस से आहत छात्रा ने दूसरी मंजिल से कूदकर खुदकुशी का प्रयास किया।

एक निजी अस्पताल में छात्रा का इलाज करा रहे पिता ने बताया कि दूसरी मंजिल से कूदी छात्रा केबिल के तारों से उलझते हुए सड़क पर गिरी थी। इसके चलते उसकी जान बच गई। हालांकि दोनों पैरों की हड्डियां टूटने से वह गंभीर रूप से घायल हो गई।

क्षेत्राधिकारी गाजीपुर दीपक कुमार सिंह का कहना है कि मामले में संगीन धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की गई है। नामजद आरोपी को जल्द पकड़ने के आदेश दिए गए हैं। छात्रा के पिता द्वारा पुलिस पर लगाए आरोपों की जांच करके कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें:    गनर से लूटी गई  कार्बाइन बरामद, एक गिरफ्तार

यह भी पढ़ें:    यूपीपीसीएल नौकरी देने के नाम पर ठगी करने वाली कम्पनी के खिलाफ दी गई तहरीर 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी