काला हिरण शिकार केस में, सलमान खान के साथी इस आरोपी को 20 साल बाद भी नही पकड पायी पुलिस

Foto

कहां गया उस समय सलमान का असिस्टेंट रहा व्यक्ति?

जोधपुर। इस समय पूरे देश की निगाहें जोधपुर की अदालत पर टिकी हैं जहां पर अब से कुछ ही देर बाद सलमान को सजा सुनाई जानी है पर इस आपा—धापी में सब लोग उस व्यक्ति को भूल गये जो सलमान व अन्य आरोपियों के साथ ही इस पूरे मामले में आरोपी था लेकिन सजा तो दूर पुलिस आज तक उसे पकड तक नही पायी है। इस व्यक्ति पर ना तो कोट्र का ध्यान गया और ना ही मीडिया का।
1998 के काला हिरण शिकार केस में सलमान खान समेत छह लोगों के खिलाफ मामला चला लेकिन 20 साल गुजरने के बाद भी एक आरोपी ऐसा भी है जिसको इस पूरे ट्रायल के दौरान पकड़ा नहीं जा सका।

दरअसल इस मामले में कुल सात आरोपी थे, इसमें सलमान खान, सैफ अली खान, सोनाली बेंद्रे, नीलम और तब्‍बू के अलावा ट्रेवल एजेंट दुष्‍यंत सिंह और दिनेश गावरे का नाम भी था, ये ट्रेवल एजेंट उस वक्‍त सलमान खान के असिस्‍टेंट थे। लेकिन इस घटना के बाद मामला सुर्खियों में आने के बाद से गावरे लापता हो गया, आज तक उसको पकड़ा नहीं जा सका. उसकी गैरमौजूदगी में इस प्रकार केवल छह लोगों पर ट्रायल पूरा हो सका।

ये था घटनाक्रम
सलमान खान, सैफ अली खान, तब्बू, नीलम, सोनाली बेंद्रे और जोधपुर निवासी दुष्यंत सिंह पर आरोप है कि उन्होंने 1 और 2 अक्टूबर 1998 को जोधपुर में देर रात लूणी थाना इलाके के कांकाणी गांव में दो काले हिरणों का शिकार किया था. उस दौरान ये एक्‍टर 'हम साथ साथ हैं' फिल्‍म की शूटिंग के लिए जोधपुर गए थे।

मामले में पेश किए गए गवाहों ने कोर्ट को बताया था कि सलमान खान ने हिरणों का शिकार किया तो उस समय ये सभी आरोपी जिप्सी गाड़ी में सवार थे। उन्होंने बताया कि जिप्सी में मौजूद सभी सितारों ने सलमान को शिकार करने के लिए उकसाया था, जिसके बाद गोली की आवाज सुनकर सभी गांवावले वहां एकत्र हो गए थे। गांव वालों के आने के बाद सलमान वहां से गाड़ी लेकर भाग गए थे और दोनों हिरण वहीं पड़े मिले थे, बिश्‍नोई समुदाय की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया था.
 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी