दुर्घटना नही हत्या है संस्कृति की मौत:खान

Foto

क्राईम के समाचार/ Crime News

एफएसएल की टीम ने क्रियेट किया संस्कृति हत्याकांड का क्राईम सीन, खुलासा ना होने से बढ़ रही लोगों की

नाराजगी के बाद सीएम ने एसटीएफ को सौंपी है जांच

लखनऊ। मड़ियांव के घैला इलाके में पॉलिटेक्निक छात्रा संस्कृति राय की हत्या में अभी भी पुलिस के हाथ कातिलों से दूर हैं जबकि मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने एसटीएफ को अब जांच सौंपी दी। आज पुलिस और एफएसएल की टीम ने मौका-ए-वारदात पर पूरे क्राइम सीन का रिक्रिएशन किया है । डेमो के जरिए यह जानने की कोशिश की गई है की आखिर संस्कृति राय की हत्या कैसे की गई और वह हाईवे से नीचे खेत में कैसे पहुंच गई? 

संस्कृति राय की हत्या के बाद से तमाम पॉलिटेक्निक छात्र छात्राएं और समाज सेवी कातिल की गिरफ्तारी को लेकर सड़क पर प्रदर्शन कर रहे हैं । बीते शनिवार को भी पॉलिटेक्निक छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर पुलिस की कार्यवाही पर सवाल खड़े किए थे जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस हत्याकांड की जांच एसटीएफ को सौंप दी है।

 

ये भी पढ़ें:  सीएम योगी के पिता की तबीयत बिगड़ी, एम्स में भर्ती

 

मुख्यमंत्री के इस रूख से लखनऊ पुलिस के अधिकारी सकते में है और रविवार की सुबह पुलिस की टीम ने एफएसएल की टीम के साथ घटनास्थल पर पूरे क्राइम सीन का रिक्रिएशन किया। इस दौरान टीम ने एक डेमो के जरिए यह जानने की कोशिश की है कि आखिर संस्कृति राय हाईवे से नीचे खेत में कैसे पहुंच गई और उसकी हत्या कैसे अंजाम दी गई।

इस रिक्रिएशन के बाद एफएसएल के जॉइंट डायरेक्टर जी खान का मानना है की ये एक्सीडेंट नहीं है,हत्या है। उन्होने कहा कि संस्कृति राय के सिर पर पीछे से वार किया गया है कातिल से बचने के लिए संस्कृति हाईवे से नीचे गिर गई और अधिक खून बहने से उसकी मौत हो गई।

 

ये भी पढ़ें:  राजप्रताप का वीआरएस मंजूर,बनाये गये नियामक आयोग के अध्यक्ष

 

 

 इसके साथ ही टीम ने पीएम रिपोर्ट और तमाम साक्ष्यों का भी अवलोकन किया है। एफएसएल की टीम अब पूरी जांच रिपोर्ट फाइनल करने के बाद पुलिस को सौपेगी। तो वही एसपी ट्रांसगोमती का कहना है कि रिपोर्ट आने के बाद पुलिस इस जांच को आगे बढ़ाएगी।

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी