पुलिस को आत्मसमर्पण करने जा रहे युवक पर फारिंग

Foto

अपराध के समाचार/crime news


राजीव शुक्ला

शाहजहांपुर। जहां एक ओर सूबे की योगी सरकार लॉ एंड आर्डर की बात करती है, वहीं दूसरी ओर लोग कानून को हांथ में लेने से बाज नही आ रहे। ताजा मामला शाहजहांपुर के कस्बा जलालाबाद का है। जहां एक युवक को उस समय गोली मार दी गयी जब वह युवक जलालाबाद पुलिस के समक्ष खुद का आत्मसमर्पण करने जा रहा था।गोली लगने से युवक गंभीर रूप से घायल हो गया सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवक को आनन फानन में जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां युबक की हालत नाजुक बनी हुई है। 

 

 

बता दें नगर के मोहल्ला ब्रह्मनान निवासी अधिवक्ता उमाशंकर दीक्षित ने कुछ दिन पूर्व  पुलिस को बताया था उनका लड़का उपेंद्र उर्फ छोटे दीक्षित शाम करीब पांच बजे रामताल रोड स्थित एक दुकान पर खड़ा था। इसी दौरान वैगनआर पर सवार होकर आए पांच लोगों ने उसके लड़के को पकड़ने के बाद उसे तमंचों की बट व लोहे की रॉड से पीटा और जबरिया गाड़ी में डालकर ले गए। करीब एक घंटे बाद हरदोई के गांव मैकपुर कुरारी निवासी एक व्यक्ति ने कॉल करके बताया कि उसका लड़का घायल अवस्था में यहां खेत में पड़ा है। 

बताया कि कार सवार पांचों वदमाशों ने उनके लड़के को बुरी तरह पीटा। इस दौरान वहां कुछ ग्रामीणों के पहुंच जाने के बाद आरोपी उसके लड़के को मरणासन्न अवस्था में छोड़कर भाग गए। आरोपियों ने उनके लड़के का मोबाइल व जेब में रखे 15 हजार रुपये भी छीन लिए। वहीं, कोतवाल संजय कुमार ने बताया था कि छोटे दीक्षित को इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया गया है। तहरीर के आधार पर इस मामले में मोहल्ला बारह पत्थर निवासी दर्शन, मोहल्ला गौसनगर निवासी आयुष, मोहल्ला ब्रह्मनान निवासी आकाश अवस्थी व दो अज्ञात के खिलाफ अपहरण समेत विभिन्न धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। 

 

पुलिस मामले की विवेचना कर रही थी इसी के चलते आरोपियों की तलाश में लगातार छापेमारी कर रही थी। लेकिन आज सुबह सनसनी फैल गयी जब अपहरण का आरोपी आयुष जलालाबाद थाने खुद को हाजिर करने जा रहा था, तभी पीछा कर रहे लोगों ने आयुष को गोली मार दी। जिससे आयुष खून लथपथ होकर जमीन पर गिर गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया और आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। 

 

यह भी पढ़ें:जमीन के खातिर बुजुर्ग को घर से अगवा कर पीट-पीटकर की हत्या

यह भी पढ़ें:HRMF की सक्रियता से युवक को फर्जी मुठभेड़ में नहीं मार पायी पुलिस!

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी