दो नाबालिग बच्चियों से दिल दहला देने वाला गैंगरेप काण्ड , एक मासूम की मौत 

Foto

क्राइम न्यूज़,अपराध समाचार

 

 पुणे। देश में भाजपा सरकार ने महिलाओ और बच्चियों की सुरक्षा को लेकर बड़े-बड़े दावे किये थे लेकिन उन दावो की हकीकत सिर्फ कागजो तक ही सीमित रह गई और देश भर में लगातार मासूमो की जिंदगियो के साथ हैवानो द्वारा खिलवाड़ किया जा रहा है। ऐसा ही एक शर्मनाक मामला पुणे से सामने आया है, जहाँ बीते रविवार को महाराष्ट्र के पुणे में बेखौफ बदमाशो ने  दो बच्चियों के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दे डाला । बता दें की गैंगरेप का आरोप एक व्यक्ति पर और एक 17 साल के लड़के पर लगा है। जिन दो बच्चियों के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया, उनमें से एक बच्ची की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई है। पीड़ित बच्चियों की उम्र 12 साल के आसपास बताई जा रही है। वहीं दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

 

यह भी पढ़ें- 25-25 हजार के इनामिया बदमाश पुलिस मुठभेड़ में ढेर,कई हत्याओ के थे आरोपी  


गुरुवार को पुलिस ने  बताया कि जिस बच्ची की मौत हुई है, उसके शरीर पर गहरे जख्मो के कई निशान थे। इलाज के दौरान बच्ची की हालत लगातार बिगड़ती जा रही थी। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि ये घटना बीते रविवार की है। दोपहर के वक्त दोनों बच्चियां अपने घर के पास बने मंदिर में गई थीं। तभी दो हैवानों की नजर बच्ची पर पड़ गई। हिन्जावाड़ी थाना प्रभारी ने कहा कि इलाके के ही रहने वाले दोनों आरोपियों ने चॉकलेट का लालच देकर बच्चियों को अपने पास बुलाया। इसके बाद दोनों आरोपी बच्चियों को किसी सुनसान जगह पर ले गए, जहां उनके साथ बलात्कार किया गया।

 

यह भी पढ़ें- अश्लील वीडियो देख नाबालिग ने अबोध बच्ची के साथ किया रेप का प्रयास


आरोपियों ने लड़कियों को घटना के संबंध में किसी को बताने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी थी। बच्चियों ने डर से घटना के बारे में अपने माता-पिता को नहीं बताया। हालांकि, उनमें से एक बच्ची ने जब दर्द और कमजोरी आदि की शिकायत की, तो उसके माता-पिता उसे अस्पताल ले गए, जहां रेप की बात का खुलासा हो सका।

 

यह भी पढ़ें- ट्रेन में चोरी हुए थे महिला के गहने, रेलवे करेगा साढ़े चार लाख रुपए का भुगतान

 

वहां डॉक्टरों ने पाया कि बच्ची सदमे में है। पुलिस ने मंगलवार को अस्पताल में पीड़िता के परिवार से संपर्क किया। लेकिन उस वक्त बच्ची बोलने की स्थिति में नहीं थी। पुलिस ने बताया, 'जब हमने दूसरी बच्ची से बातचीत की, तो उसने पूरी घटना बताई।' बच्ची के बयान के आधार पर ही दो आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। आरोपियों में एक की पहचान गणेश निकम (22) के रूप में की गई है। इस बीच, जिस बच्ची का सरकारी अस्पताल में इलाज चल रहा था कि वह कोमा में चली गई और बुधवार रात उसकी मौत हो गई। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 और 363 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। साथ ही पॉक्सो एक्ट के तहत भी आरोपियों पर केस दर्ज किया गया है।

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी