इलाज न  मिलने से गर्भवती महिला की सरकारी अस्पताल में  दर्दनाक  मौत  

Foto

क्राइम न्यूज़,अपराध समाचार 


कन्नौज। उत्तर प्रदेश सरकार  महिलाओ के स्वास्थ और सुरक्षा के बड़े बड़े दावे करती है लेकिन इन दावो की जमीनी हकीकत ने तो  इन्सानियत को भी शर्मिंदा कर दिया है, इन्सानियत को शर्मिंदा कर देने वाला एक मामला  कन्नौज के एक सरकारी अस्पताल से सामने आया है, जहाँ एक सरकारी अस्पताल के डॉक्टरो  की लापरवाही के चलते एक गर्भवती महिला को इलाज नहीं मिला और पीडित महिला  की दर्द से तड़पते हुए मौत हो गई। पीड़ित महिला सरकारी अस्पताल में रातभरदर्द से कराहती रही पर किसी डॉक्टर ने उसे इलाज मुहैया नहीं कराया। महिला की दर्द भरी  चीख सुनने को परिवार के अलावा कोई नहीं था।


पीड़िता के परिजनों  का कहना है की अस्पताल परिसर में ही डॉक्टरों का घर है, लेकिन रात में दरवाजा खटखटाते रहने के बावजूद उन्होंने दरवाजा नहीं खोला। अंत में असहनीय दर्द के कारण महिला की  दर्दनाक मौत हो गई।अपने परिवार के सदस्य को खोने के बाद गुस्साए परिजनों ने महिला का शव अस्पताल गेट पर रखकर जमकर हंगामा किया। जिसके बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने आक्रोशित परिजनों को कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया। 

 

आक्रोशित परिजनों के शांत होने के बाद पुलिस किसी तरह महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज पाई। इस मामले में अस्पताल के मुख्य चिकित्साधिकारी ने एडिशनल सीएमओ को जांच के आदेश दिए हैं। प्रदेश के सरकारी अस्पतालों का ये हाल तब है जब प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं देने का दावा करते हैं।इलाज के अभाव में अस्पताल में महिला की मौत योगी सरकार के स्वास्थ्य सुविधाओं पर सवाल उठाती है।

 

यह भी पढ़ें- गैंगरेप पीडिता के पिता पर फर्जी मुकदमा दर्ज करने वाले तीन पुलिसकर्मियों पर...

यह भी पढ़ें- लखनऊ में तीन करोड़ की विदेशी सिगरेट के साथ दो तस्कर गिरफ्तार  

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी