इसलिए बाप बन गया फर्जी दरोगा,करने लगा अवैध वसूली

Foto

अपराध के समाचार/crime news

इकराम अली

शामली। जनपद की कांधला पुलिस ने एक फर्जी दरोगा को गिरफ्तार किया है।  पकड़ा गया फर्जी दरोगा बेटी की शादी में दान दहेज को इकट्ठा करने के लिए फर्जी दरोगा बनकर वाहनों से अवैध वसूली कर रहा था।

आरोपी ने बताया कि मेरठ के बेगम पुल से तीन हजार रूपये में दरोगा की वर्दी खरीदी थी। पुलिस ने पकड़े गए फर्जी दरोगा के कब्जे से अवैध वसूली के रूपये और एक मोबाइल बरामद किया है। पुलिस ने पकड़े गए दरोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है। 

पुलिस को मुखबिर ने सूचना दी कि कस्बे के पूर्वी यमुना नहर के निकट एक  दरोगा ट्रकों से अवैध वसूली कर रहा है। सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर वर्दी पहने एक व्यक्ति को हिरासत में ले लिया, और थाने ले आई। पुलिस पूछताछ में पकड़े गए फर्जी दरोगा ने अपना नाम शिवकुमार पुत्र रामप्रसाद निवासी गांव माछरा थाना किठौर बताया है।

पकड़े गए दरोगा से पुलिस ने पांच हजार रूपये और एक मोबाइल बरामद किया है। फर्जी दरोगा ने बताया कि उसने वर्दी मेरठ से खरीदी थी। उसे दो अपनी बेटीयों की शादी करनी थी। लड़के पक्ष के लोग बेटीयों की शादी में दहेज की मांग कर रहे थे।

दहेज की रकम व बारात की खातिर तव्वजों के लिये मजबूरी में कदम उठाना पड़ा। वह ट्रकों से अवैध वसूली करने लगा। पुलिस ने फर्जी दरोगा के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है। सीओ कैराना राजेश कुमार तिवारी कहना है कि पुलिस ने फर्जी दरोगा बने व्यक्तिं को अवैध वसूली करते हुए गिरफ्तार किया और मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें:  गैंगरेप की घटनाओं ने हिला दिया शाहजहांपुर

यह भी पढ़ें:    नामी स्कूल के तीन शिक्षकों पर लगा शारीरिक व मानसिक शोषण का आरोप

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी