कलयुगी पिता ने  5 साल के मासूम को लगाया दाव पर, मचा हडकंप 

Foto

क्राइम न्यूज़ , अपराध समाचार 


 मुज़फ्फ़रपुर। बिहार के मुजफ्फरपुर के मीनापुर थाना क्षेत्र से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है,जहाँ  पर एक कलियुगी बाप ने जुए में अपना सब कुछ हार जाने के बाद एक ऐसा कदम उठाया जिसने बाप बेटे के रिश्ते को शर्मिंदा कर दिया।कलयुगी पिता के पास जब दाव लगाने के लिए कुछ भी नहीं बचा तो उसने अपने 5 साल के बेटे को ही दांव पर लगा दिया। आरोपी पिता का नाम संतोष कुमार है।  

जुए में  बेटे को हारने के बाद संतोष डर गया।जीतने वाले शख्स राम भजन ने कहा कि अब हम जीत गए हैं इसलिए अपना बेटा हमें दे दो। जब राम भजन ने बच्चे को ले जाने की कोशिश की तो गांव में जमकर हंगामा हुआ, दोनों पक्षों में जमकर मारपीट भी हुई। लेकिन, मीनापुर पुलिस मामले से अब तक अनजान है। इस इलाके में जुए का खेल हमेशा से चर्चा का विषय बना रहता है।

रविवार को मीनापुर के तुर्की के घरारी गांव में लोग जुआ खेल रहे थे। खेल के दौरान दो जुआरियों के पैसे खत्म हो गए।इसके बाद भी दोनों ने हार नहीं मानी। दोनों में से एक शख्स ने तो अपने 5 साल के बेटे को ही दांव पर लगा दिया और कहा कि अगर मैं हार गया, तो मेरा बेटा तुम्हारा जबकि दूसरे ने कहा कि अगर मैं हारा तो जिंदगी भर तुम्हारी गुलामी करूंगा। 

इसके बाद दोनों के बीच खेल शुरू हो गया।पहले पक्ष का गेम उल्टा पड़ गया और वह अपने बेटे को जुए में हार गया। दूसरे पक्ष ने बाजी जीतने के बाद जब उसके बेटे को मांगा तो दोनों के बीच जमकर मारपीट हुई। इस मामले को सुलझाने के लिए गांव में पंचायत बैठाई गई और सजा के रूप में दोनों को उठक- बैठक कराई गई।

गांव के उप सरपंच अरुण कुमार चौधरी ने हारने वाले शख्स को पचास बार कान पकड़कर उठक बैठक करने को कहा और बच्चे को जीतने वाले शख्स को पच्चीस बार उठक बैठक कराई गई। लोग उठक- बैठक का वीडियो बना रहे थे और पंच तमाशा देखते रहे। उसी बीच गांव के एक शख्स ने बच्चे के पिता को थप्पड़ जड़ दिया। पंच ने दोनों युवकों से भरी पंचायत में माफी मंगवाई और सादा कागज पर हस्ताक्षर करवा कर छोड़ दिया।  उप सरपंच ने कहा कि अगर दोनों इस तरह की गलती फिर करते हैं तो उन्हें कठोर सजा दी जाएगी।

 

यह भी पढ़ें- पुलिस हिरासत से खीचकर दबंगों ने युवक को पीट-पीटकर  मार डाला

यह भी पढ़ें- मामूली विवाद में अधेड़ को सर में मारी गोली, हुई मौत 

 

 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी