कर्ज चुकाने को मांगी एक करोड की रंगदारी  

Foto

अपराध के समाचार, Crime News

 

व्यापार में घाटे को पूरा करने के लिए अपने ही फूफा को बनाया निशाना

पुलिस ने तीन सगे भाईयों सहित पांच बदमाशों को किया गिरफ्तार

 

 

इकराम अली
शामली।
पैसे को आज के युग का भगवान यूं ही नही कहां जाता, पैसे के कारण इंसान समाज रिश्ते नातों तक को भूल जाता है। ताजा उदाहरण शामली में उस समय देखने को मिला जब अपने ही फूफा से एक करोड की रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने तीन सगे भाईयों सहित पांच बदमाशों को गिरफ्तार किया। पकडे गए बदमाशों ने बताया कि व्यापार में हुए हुए कर्ज को चुकाने के लिए उन्होने अपने फूफा से रंगदारी मांगी थी।

 

यह भी पढें : आकाशीय बिजली गिरने से चार झुलसे ,तीन लोगो की मौत

 

एसपी आवास पर आयोजित प्रेसवार्ता में पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने बताया कि 25 जुलाई को शामली निवासी व्यापारी परमानंद शर्मा से अज्ञात बदमाशों द्वारा एक करोड की फिरौती मांगी गयी थी।

घटना के संबंध में व्यापारी ने सदर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने मामले की जांच पडताल करते हुए उत्तराखंड के ज्वालापुर के युवक मिथुन को गिरफ्तार किया तो पूछताछ में चैंकाने वाले तत्य सामने आये। एसपी ने बताया कि रंगदारी मांगने वाले बदमाश व्यापारी के साले के पुत्र निकले।

 

यह भी पढें : फिर कहर बनकर बरसी बारिश

 

मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आनंदा होटल से व्यापारी के साले के लडके सचिन, नितिन, देवभूषण उर्फ मोनू निवासी नजफगढ दिल्ली, पुष्पेन्द्र उर्फ बबलू व अनिल निवासी मुजफ्फरनगर को गिरफ्तार कर लिया। बदमाशों के कब्जे से पुलिस ने एक पिस्टल 32 बोर, 4 जिंदा कारतूस, एक मोबाइल व बिना प्रयोग किए गए दो सिम भी बरामद किए हैं।

पूछताछ में पकडे गए बदमाश सचिन ने बताया कि व्यापार में घाटा होने के कारण उन पर काफी कर्ज हो गया था और उन्होंने अपने रिश्तेदार परमानंद शर्मा से एक करोड रुपये की रंगदारी मांगी थी। बदमाश नितिन ग्रेजुऐट है, जिसकी दिल्ली के बदमाश मोहित कटारिया से गैंगवार भी चल रही है। पुलिस ने बदमाशों को जेल भेज दिया है।

 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी