खुलासे के डर से रेप आरोपी ने फांसी लगाकर दे दी जान

Foto

Crime news/अपराध के समाचार

 

बागपत। यूपी के बागपत जिले में रेप के एक आरोपी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। बता दें, बाजार जाने के बाद लापता हुई 10 साल की बच्ची की बुधवार को रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। बताया जा रहा है कि, लोगों के आक्रोश और बदनामी के डर से रेप के आरोपी जूता व्यापारी ने फांसी पर लटककर आत्महत्या की है। आरोपी की मां सभासद है। दरअसल, घटना के विरोध में लोग सड़क पर उतर आए थे। बड़ी संख्या में लोगों ने प्रदर्शन कर आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की थी। पुलिस ने भी आरोपी का सुराग देने वालों को 50 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की थी।

 

यह भी पढ़ें- लुटेरी दूल्हनों का खौफ, 27 को लगाया चूना

 

खेकड़ा के विजय नगर निवासी राम कुमार का 25 साल का बेटा रजनीश कुमार कस्बे में जूते और चप्पलों की दुकान पर काम करता था। उसकी मां तारा देवी वॉर्ड नंबर एक से सभासद है। भाई ने बताया कि शुक्रवार की रात रजनीश परिजनों के साथ नीचे कमरे में सोया हुआ था। शनिवार की सुबह 5 बजे मां तारा देवी ऊपरी मंजिल पर बने कमरे में गई तो रजनीश का शव फांसी पर लटका हुआ था। उसकी मौत हो चुकी थी। उसने दुपट्टे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। बताया गया है कि घटना के विरोध में आरोपी को फांसी देने की मांग करते हुए निकाले गए कैंडल जुलूस में उसका बड़ा भाई बंटी भी शामिल था। फांसी देने की मांग की बात सुनकर आरोपित गुमसुम हो गया था।

 

यह भी पढ़ें- शोहदों के आतंक से स्कूल बंद

 

सीसीटीवी फुटेज से हुआ खुलासा

एसपी शैलेश कुमार पांडे ने बताया कि पुलिस मामले की जांच में जुटी थी। जिस बोरे में बच्ची की लाश मिली थी उस तरह के बोरे की तलाश में जूता व्यापारी रजनीश को बुलाकर पूछताछ की गई थी। शुक्रवार को उसकी दुकान की तलाशी के दौरान संदेह होने पर वहां लगे सीसीटीवी को खंगाला गया। फुटेज खंगालने पर रजनीश को बच्ची का हाथ पकड़कर अंदर गोदाम में ले जाते देखा गया। इस पर व्यापारी पर संदेह गहरा हो गया।

पूछताछ के लिए रजनीश को अगले दिन शनिवार को थाने आने के लिए कहा गया था। सीओ वंदना शर्मा का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही थी। पुलिस आरोपी के वारदात में शामिल होने की बात की पुष्टि करने में जुटी थी। जब रजनीश के वारदात में शामिल होने की बात सामने आई तो इस बीच पता चला कि उसने खुदकुशी कर ली है और तब तक उसका अंतिम संस्कार भी हो चुका था।

 

यह भी पढ़ें- मनचलों से परेशान छात्रा ने की खुदखुशी,पुलिस जांच में जुटी  

 

सड़कों पर उतर आए थे लोग

घटना के विरोध में लोगों में पुलिस के प्रति आक्रोश बढ़ता जा रहा था। बच्ची की रेप के बाद हत्या के खुलासे और आरोपी को फांसी की सजा दिलवाए जाने की मांग को लेकर लोग सड़कों पर उतर आए थे। शनिवार को कस्बे में कैंडल मार्च निकाला गया था। इसमें जन सैलाब उमड़ा। एक उन्हें देखकर लोगों की आंखों से आंसू छलक रहे थे। वे रोते हुए अपनी बिटिया के लिए इंसाफ मांग रहे थे। सभी राजनीतिक दलों के पदाधिकारी और कार्यकर्ता भी मार्च में शामिल रहे। लोगों का कहना था कि बच्ची की रेप के बाद निर्मम तरीके से हत्या की गई है। उसे न्याय दिलाकर ही वे दम लेंगे।

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी