लडकियों की तस्करी करने वाला मास्टरमाइंड चढ़ा एटीएस के हत्थे

Foto

क्राइम न्यूज़ ,अपराध समाचार 

नई दिल्ली। झारखंड की 16 नाबालिग बच्चियों को मानव तस्करों के चुंगल से  आजाद करा लिया गया है और सभी लड़कियां आज रांची पहुंची हैं। बच्चियों ने जो आप बीती बताईं उसे सुनकर सभी हैरान रह जायेंगे। बच्चियों को काम देने के नाम पर प्रत्येक दिन इनका यौन शोषण  किया जाता था और अगर किसी भी बच्ची ने काम करने से मना किया तो उसपर  चाकू से हमला भी किया जाता था।

 

यह भी पढ़ें- खम्बे से टकरा कर जीप पलटी, तीन की मौत, 5 घायल

 

झारखंड के गोड्डा जिले के पहाड़िया जनजाति की एक बच्ची ने चौकाने वाली बात बताई है। दो दिन पहले दिल्ली एटीएस ने जिस किंगपिन प्रभा मुनि को गिरफ्तार किया है, वही काम का लालच देकर उसे दिल्ली लेकर गई थी। काम के नाम पर प्रभा मुनि और उसका पूरा परिवार जुल्म ढाता रहा। निर्वस्त्र कर उसकी पिटाई तक की जाती थी। चाकू से शरीर पर कई जगह वार किए जाते थे और जब दरिंदो का जी नहीं भरता था तो पति की बिस्तर पर बच्ची को सुला देती थी। बच्चियों के मुताबिक, अभी भी उसके चुंगल में कई लड़कियां फंसी हैं।

 

यह भी पढ़ें- माँ की हत्या कर बेटे ने भी की आत्महत्या  


दिल्ली से झारखंड पहुंची 16 बच्चियों की यही कहानी है। हर किसी को काम और उसके बदले अच्छे पैसे की लालच में पहले दिल्ली ले जाया गया और फिर दलदल में धकेल दिया गया। प्रभा मुनि और उसका पति रोहित मुनि लड़कियों की तस्करी का एक गैंग चलाता है। दिल्ली के पंजाबीबाग में बड़ी सी बिल्डिंग में कई लड़कियां रहती हैं। इसी सुचना के आधार पर दो दिन पहले दिल्ली एटीएस ने छापेमारी की और प्रभा मुनि को गिरफ्तार कर लिया।

 

यह भी पढ़ें- दुष्कर्म में असफल युवकों ने बनाया महिला का अश्लील वीडियो

 

इस रैकेट के कई और लोगों की शामिल होने की आशंका जताई जा रही है। पूछताछ में यह भी खुलासा हुआ है कि प्रभा मुनि के पास दिल्ली में 250 करोड़ की जमीन है। आरोप है कि उसने यह बच्चियों की अस्मत बेचकर कमाई है।

 

यह भी पढ़ें- आईपीएस सुरेन्द्र दास सुसाइड मामले में आया नया मोड़

 

रांची पहुंचते ही बच्चियां सुकून में दिखी। बावजूद बीते समय में इनपर जो बीता है उसे भुला पाना इनके लिए आसान नहीं है। बाल संरक्षण आयोग इन बच्चियों का नामांकन कस्तुरबा विद्यालय में करवाकर इनके जीवन को संवारने में जुटी है। बावजूद बड़ा सवाल यह है कि आखिर ऐसे सौदागर कब तक पुलिस के चुंगल से बचते रहेंगे? कब तक ऐसे दलालों का खात्मा होगा? झारखंड पुलिस फिलहाल गिरफ्तार प्रभा मुनी को रिमांड पर लेकर रांची लाने की तैयारी में है। 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी