massiar-banner

लड़कियों को अश्लील मैसेज भेजने वाला दरोगा का बेटा गिरफ्तार

Foto


Crime news / अपराध के समाचार 

 

मेरठ। यूपी के मेरठ जिले में शुक्रवार को फर्जी आईडी बनाकर लड़कियों को अश्लील फोटो और मैसेज भेजकर परेशान करने वाले मनचले को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ये मनचला कोई और नहीं बल्कि कानून व्यवस्था को सम्भालने वाले यूपी पुलिस के एक दरोगा का बेटा है । आरोपी फेसबुक से छात्राओं के फोटो चुराता था और उन्हें एडिट करके न्यूड बनाकर पर्सनल ईमेल पर भेजता था। विदेशी वेबसाइट का प्रयोग करने की वजह से आरोपी पिछले सात माह से पकड़ में नहीं आ सका था।

 

मेरठ के मेडिकल थाना क्षेत्र में इंजीनियरिंग कालेज की छात्रा ने संबंधित थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। छात्रा शहर के एक इंजीनियरिंग कालेज में बीटेक फाइनल ईयर में पढ़ रही है और नेशनल एथलीट है। इस केस की विवेचना नौचंदी थाने को ट्रांसफर हुई। छात्रा के मुताबिक एक फेक आईडी से उसे अश्लील मैसेज आ रहे हैं। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए साइबर सेल को सौंप दिया , जांच के बाद जो जानकारी लगी वो हैरान कर देने वाली थी। क्योंकि लड़कियों को अश्लील मैसेजे भेजने वाला आरोपी यूपी पुलिस में तैनात एक दरोगा का बेटा निकला। आरोपी का नाम सौरव प्रताप चौधरी है और वह कंकरखेड़ा का रहने वाला है, उसके पिता दरोगा के पद पर अलीगढ़ में तैनात हैं। 

 

यह भी पढ़ें : फेसबुक पर युवती को प्यार में फंसाया, रेप कर हुआ फरार, केस दर्ज

जानकारी अनुसार सौरभ चौधरी अपने ही कॉलेज में पढ़ने वाली लड़कियों की फोटो फेसबुक से निकालकर उन्हें एडिट करता था और फिर लड़कियों को उनके पर्सनल ईमेल पर भेजकर परेशान करता था। अभी तक इंजीनियरिंग कालेज की  50 से भी ज्यादा लड़कियों को परेशान कर चुका है , पुलिस ने उसे गिरफ्तार करके शुक्रवार को  मेरठ कोर्ट में पेश कर दिया। 

 

यह भी पढ़ें : जेल से रिहा हुए भीम आर्मी के संस्थापक रावण, बीजेपी को हराने की भरी हुंकार

नौचंदी पुलिस ने गुरुवार को आरोपी सौरभ प्रताप सिंह निवासी तक्षशिला कॉलोनी से  गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी भी इसी कॉलेज में बीटेक तृतीय वर्ष का छात्र है। आरोपी के पिता अलीगढ़ जिले में सब इंस्पेक्टर बताए गए हैं। नौचंदी थाना इंस्पेक्टर बृजेश कुमार ने बताया कि कॉलेज की कई और छात्राओं को भी अश्लील मैसेज भेजे जाने की जानकारी हुई थी। 
 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी