महिला ने नाबालिग लड़के से किया गंदा काम, पॉक्सो एक्ट में केस दर्ज

Foto

अपराध के समाचार/Crime News

   

मुंबई। महिलाओं व नाबालिक लड़कियों की सुरक्षा के लिए तो सख्त कानून सरकार ने बनाए हैं। लेकिन अब नाबालिक लड़कों की सुरक्षा सवालों के घेरे में आती जा रही है। मुंबई में 22 वर्षीय महिला पर 17 वर्षीय नाबालिग लड़के के साथ यौन उत्पीड़न का सनसनीखेज आरोप लगा है। पीड़ित के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत के दर्ज कर आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है। 

 

                                                                                        प्रतीकात्मक चित्र
 

 

क्या है मामला 


पीड़िता नाबालिग लड़के की मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि उसके बेटे को एक महिला ने बहला फुसलाकर अपने कब्जे में रख लिया है। यही नहीं महिला ने नाबालिग से शादी भी कर ली है। दोनों के बीच सहमति से शारीरिक संबंध भी बने। यही नहीं पांच साल की एक बच्ची भी महिला को है। पुलिस ने शिकायत मिलने पर सख्त कार्रवाई करते हुए आरोपी महिला को हिरासत में ले लिया है। 


कोर्ट में याचिका


आरोपी महिला ने जेल जाने से पहले कोर्ट में जमानत याचिका डाली है। महिला का दावा है कि सहमति से ही उसने 8 नवंबर 2017 को शादी की थी। महिला का दावा है कि उसकी शादी हो चुकी है और एक बच्चा भी है। इसलिए अब वह लड़के के साथ उसकी के घर में रहेगी। आरोप है कि जब लड़के के परिजनों ने महिला को साथ रखने से इंकार कर दिया तो अभद्रता करते हुए धमकी दी। 


वापस नहीं आ रहा बेटा

 

पीड़ित परिजनों का कहना है कि महिला के जाते ही बेटा भी घर छोड़कर चला गया। अब वह घर वापस नहीं लौट रहा है। परिजनों का यह भी दावा है कि शादी के बाद दो बार महिला से उनके बेटे का तलाक भी हो चुका है। महिला से नाबालिग लड़के का संबंध दो सालों से था। इससे नाबालिग की सोच में बदलाव भी आ गया। बेटा मजबूरी में महिला के साथ रह रहा है। चूंकि महिला ने आत्महत्या करने की धमकी दी है। 

 

                                                                                                प्रतीकात्मक चित्र

 

 

10वीं फेल


परिजनों का आरोप है कि लड़के को साथ रहने के लिए महिला ने आत्महत्या करने की कोशिश भी की। इन सब कारणों से उनका बेटा काफी तनाव में रहने लगा। महिला की प्रताड़ना से आलम यह रहा कि बेटा 10वीं की कक्षा में मानसिक तनाव के कारण फेल हो गया। गौरतलब है कि मैरेज एक्ट के तहत शादी के लिए लड़के की उम्र 21 और लड़के की आयु 18 वर्ष होना अनिवार्य है।

 

यह भी पढ़ें:   पुलिस ने नही सुनी तो रात में किसान ने कर दिया डीजीपी को फोन

 

यह भी पढ़ें:      शेल्टर होम से जुड़े अन्य सभी 17 मामलों की जांच सीबीआई को

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी