loader

पेटीएम कंपनी ने एडीजी प्रेम प्रकाश को ठगा 

Foto

क्राइम न्यूज़ ,अपराध समाचार 

बरेली। अक्सर आप लोगो ने ऑनलाइन पेमेंट के चक्कर में कई लोगों के साथ धोखाधड़ी के मामले सुने होंगे।लेकिन इस बार ठगी का शिकार बरेली ज़ोन के एडीजी प्रेम प्रकाश हुए है। इन दिनों ऑन लाइन पेमेंट के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली ऐप पेटीएम पर एडीजी ने धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए कहा की कंपनी ने पेमेंट लेने के बाद भी सामान की डिलीवरी नहीं की और लंबे समय तक गुमराह किया। तो एडीजी को अपने साथ हुई ठगी का अहसास हुआ। जिसके बाद उन्होंने शहर कोतवाली में एफआईआर दर्ज करवा दी है।

 

यह भी पढ़ें- जासूस इंजीनियर निशांत को लखनऊ लाई यूपी एटीएस 


एडीजी प्रेम प्रकाश बीते कई दिनों से पेटीएम को फोन कर रहे थे। लेकिन उनको लगातार गुमराह किया जा रहा था। पेटीएम ने जब उनकी बात को तब्बजो नहीं दिया।तब एडीजी ने शहर कोतवाली मे मुकदमा दर्ज करवाया। प्रेम प्रकाश ने कहा कि उन्होंने पेटीएम से अपने बच्चों के लिए 2 टॉय ड्रोन मंगवाए थे।लेकिन 15 दिन बीत जाने के  बावजूद उनके पास टॉय ड्रोन नहीं पहुंचे। पिछले पंद्रह दिनों से वो लगातार पेटीएम को मेसेज कर रहे थे और फोन भी कर रहे थे लेकिन पेटीएम के अफसरों ने उनकी एक ना सुनी जिसके बाद उन्होंने ये कदम उठाया।

 

यह भी पढ़ें- अवैध संबंधो के शक में महिला सहित 2 लोगों की गोली मारकर हत्या  

 

प्रेम प्रकाश ने बुधवार को गति कोरियर के श्याम सिंह से इस मामले पर बात की तो उसने अपने वरिष्ठ अफसर कुशल सिसोदिया से बात कराई। उन्होंने कहा की आपका सामान चेन्नई आ गया है और शिप पर लोड हो चुका है और उन्हें शाम तक स्टेटस बताने की बात कही। इस बीच उनके मोबाइल पर पेटीएम कंपनी का एक  मैसेज आया, जिसमें लिखा था कि उनके कोरियर पार्टनर ने कहा है कि आपने डिलीवरी लेने से मना कर दिया है। इस बात को लेकर एडीजी ने कोतवाली में पेटीएम और गति कंपनियों के अफसर श्याम सिंह और कुशल सिसोदिया अदि के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में खयानत और आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करवाया है। कोतवाली के इंस्पेक्टर गीतेश कपिल ने इस मामले में कहा कि एडीजी के आदेश पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है और अब पेटीएम और गति कोरियर के अफसरों से पूछताछ की जाएगी। 
 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी