प्राईवेट अस्पताल की दबंगई,मरीज की मौत के बाद तीमारदारों को दौड़ दौड़कर पीटा

Foto

अपराध के समाचार/crime news

सीसीटीवी कैमरे बंद कर की गयी मारपीट,मरीज के परिजनों ने लूट का भी लगाया आरोप

गोरखपुर। प्राईवेट अस्पतालों में मरीजों के साथ मनमानी और लापरवाही थमने का नाम नही ले रही है ऐसा ही एक मामला सीएम योगी के गृह जनपद गोरखपुर में सामने आया है जहां पर मरीज की मौत से नाराज परिजनों को समझाने के बजाये डाक्टर और अन्य स्टॉफ ने तीमारदारों को सरेआम दौड़ दौड़कर पीटा। पीड़ितों का आरोप है कि अस्पताल प्रशासन ने मारपीट के समय वहां पर लगे सीसीटीवी कैमरे भी बंद कर दिये ताकि कोई सूबूत ना रहे। पीड़ितों का कहना है कि आरोपी भगते समय उनके गले से सोने की चेन और रुपये का बैग भी लूट ले गये।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गोरखपुर में कैंट इलाके के पैडलेगंज स्थित राजवंशी न्यूरो एंड मल्टी स्पेशियालिटी नर्सिंग होम में मरीज की मौत पर शनिवार की सुबह बवाल हो गया। तीमारदार डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे। आरोप है कि डॉक्टर ने बाहरी लोगों को बुला लिया और फिर महिला समेत चार तीमारदारों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। 

उधर, अस्पताल के बाहर भीड़ देखकर उधर से गुजर रहे आईजी के पीआरओ की सूचना पर कैंट पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। यहां पर फिर परिजनों ने जिंदा होने की बात बोलते हुए हंगामा शुरू कर दिया। हालांकि जांच में मौत की पुष्टि हुई। पुलिस ने मृतक सचिन के भाई अमित की तहरीर पर नर्सिंग होम मालिक डॉ. अजय सिंह, अंशुमान सिंह और अज्ञात पर केस दर्ज कर लिया है। 

बता दें कि 14 अप्रैल को सचिन बाइक से इंजीनियरिंग कॉलेज की ओर जा रहे थे और सांड आने की वजह से गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बड़े भाई अमित के मुताबिक सरकारी अस्पताल में प्राथमिकी इलाज के बाद बेहतर इलाज के लिए राजंवीश नर्सिंग होम लाये थे। 

तीमार दारों का कहना है कि शुक्रवार को आईसीयू में ही मरीज ने जूस पिया और उसकी सेहत में सुधार भी था। जिसके बाद डॉक्टर ने शनिवार को वार्ड में शिफ्ट करने को कहा था। शनिवार की सुबह 7:30 बजे सचिन की तबीयत अचानक खराब हो गई। 

बुलाने पर भी सीनियर डॉक्टर नहीं आए और फिर सचिन की मौत हो गई। इस पर सिर्फ डॉक्टर से ना आने की वजह पूछी गई तो वह गुस्से में आ गए और उनके साथियों ने उनके ईशारे पर मारपीट की। 
वहीं कैंट पुलिस का कहना है कि डॉक्टर समेत दो पर नामजद और अज्ञात के खिलाफ गैर इरादतन हत्या, मारपीट, धमकी, छेड़खानी और डकैती की धाराओं में केस दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। सीसी टीवी कैमरे की भी जांच की जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत की वजह स्पष्ट होगी। 

यह भी पढ़ें:   छेड़छाड़ का विरोध पड़ा भारी, दबंगों ने लड़की पर बोला हमला

यह भी पढ़ें:    पुलिस ने अवैध असलहा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया, एक गिरफ्तार

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी