रेलवे प्रशासन की लापरवाही ने ले ली युवक की जान

Foto

नाराज ग्रामीणों ने मुआवजे व दोषियों पर कार्यवाई की मांग पर घण्टो जाम रखा हाई—वे

लखनऊ/बंथरा।  हरौनी में रेलवे प्रशासन की लारवाही ने सोमवार को एक स्थानीय युवक की जान ले ली,घटना से नाराज लोगों ने सैकड़ों की संख्या में एकत्र होकर बनी बंथरा मार्ग जाम कर दिया जिससे कानपुर रोड पर घण्टों जाम लगा रहा नाराज लोगों ने मौके पर पंहुचे रेलवे व पुलिस के आलाधिकारियों से लापरवाही बरतने वाले कर्मचारी के खिलाफ कड़ी कार्यवाई और पीड़ित परिवार को मुआवजा दिये जाने की मांग। अधिकारियों द्वारा जल्द कार्यवाई के आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने जाम समाप्त किया,पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

राजधानी में बंथरा थानाक्षेत्र के हरौनी रेलवे स्टेशन पर अचानक ट्रेन के प्लेटफार्म बदलने की सूचना से मची अफरा-तफरी में ट्रेन की चपेट में आने से सोमवार सुबह एक युवक की मौत हो गयी। लखनऊ से कानपुर रेल खंड पर पड़ने वाले हरौनी स्टेशन पर रोज की भांति आज सुबह भी गाड़ी संख्या 64206 सवारी गाड़ी को आना था किंतु आज स्टेशन मास्टर रूप नारायण मीणा की छोटी सी गलती के कारण जो कि ट्रेन की घोषणा प्लेटफार्म नंबर चार पर करने के बाद अचानक प्लेटफार्म को बदलकर 3 पर कर दिया ।

जिससे ट्रेन के आने पर यात्रियों में मची अफरा-तफरी से लतीफ नगर निवासी प्रदीप कुमार पुत्र बाबूलाल उम्र लगभग 22 वर्ष ट्रेन की चपेट में आ गया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई । इस घटना से मौजूद यात्रियों में हड़कंप मच गया, जिससे वह काफी आक्रोशित होकर वहीं पर उग्र प्रदर्शन करने लगे, एवं स्टेशन मास्टर के कक्ष में घुसकर तोड़फोड़ भी की वह ट्रेन को रोक कर काफी देर तक हंगामा करते रहे, एवं मृतक के परिवार को उचित राहत एवं दोषियों के ऊपर उचित कार्यवाही करने की मांग पर अड़े रहे ।

प्रदर्शन के कारण एवं ट्रेन के स्टेशन पर ही खड़ी होने के कारण दोनों ओर से ट्रेनों का आवागमन अवरुद्ध हो गया जिससे बाकी ट्रेनों का संचालन भी बाधित हो गया । मौके की नजाकत को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात करना पड़ा एवं रेलवे के अधिकारी भी आ गए । जिसमें एडीआरएम कासिम हेमराज अहमद, एसपी जीआरपी सौमित्र यादव, एसडीएम सरोजनी नगर शैलेंद्र प्रताप सिंह क्षेत्राधिकारी कृष्णा नगर, प्रभारी निरीक्षक बंथरा एवं संबंधित चौकी एवं पीएसी को भी तैनात करना पड़ा ।

अत्यधिक मान-मनौव्वल के बाद मामला शांत हुआ तब जाकर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मौजूद एडीआरएम कासिम हेमराज अहमद ने मृतक के परिवार को साहस बंधाया और संवेदना व्यक्त की एवं उनके परिवार को रेल विभाग की ओर से हर संभव मदद का भरोसा दिलाने की बात कही । जिससे उनके परिवार का भरण-पोषण आसानी से हो सके । वहीं मौजूद एसडीएम  सरोजनीनगर ने भी सरकार की तरफ से मिलने वाली हर संभव मदद का भरोसा दिलाया एवं मृतक के परिवार के साथ अपनी संवेदनाएं व्यक्त की ।

वहीं मौजूद लोगों ने आरोप लगाया कि स्टेशन मास्टर सहित पूरा स्टाफ सुबह पूरी तरह से नशे के आगोश में था तभी इतनी बड़ी दुर्घटना हुई। एडीआरएम ने ग्रामीणों को भरोसा दिलाया कि घटना की जांच करायी जायेगी जिसमें जो भी दोषी पाया गया उसके खिलाफ कठोर कार्यवाई की जायेगी। 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी