रोहित शेखर हत्याकांड:घर के तीन लोगों पर टिकी पुलिस के शक की सुई

Foto

अपराध के समाचार/crime news

नई दिल्ली। देश के संदिग्ध हाईप्रोफाईल मर्डर में दिल्ली क्राईम ब्रांच की शक की सुई अब तीन लोगों के इर्दगिर्द ही घूम रही है,इंतजार है कि सिर्फ कुछ सांइनटीफिक सूबूतों की जिनकी रिपोर्ट आनी बाकी है। क्राईम ब्रांच के निशाने पर हैं मृतक रोहित शेखर की पत्नी,ड्राईवर और नौकर गोलू।

गौरतलब है कि यूपी व उत्तराखण्ड के पूर्व सीएम एनडी तिवारी के पुत्र रोहित शेखर अपने दिल्ली के आवास  पर कुछ दिन पूर्व संदिग्ध अवस्था में मृत पाये गये थे। रोहित की मौत को शुरुआत में स्वाभिक मौत बताते हुए कहा गया था कि उनकी मौत हार्ट अटैक से होना बताया गया पर मामला संदिग्ध प्रतीत होने पर दिल्ली पुलिस ने जांच शुरु की और पीएम रिपोर्ट में रोहित की हत्या किये जाने की पुष्टि के बाद जांच दिल्ली क्राईम ब्रांच को दे दी गयी थी।

दिल्ली क्राईम ब्रांच ने जांच की तो घर में लगे सीसीटीवी फुटेज में रात में करीब साढ़े बारह बजे रोहित की पत्नी अपूर्वा घर के प्रथम तल पर जाती नजर आयीं हैं। पीएम रिपोर्ट में भी रोहित की मौत का समय भी इसी के आस पास दर्शाया गया है। इसके साथ ही रोहित का नौकर गोलू भी घर के प्रथम तल पर ही रहता है।

बता दें कि रोहित का कमरा भी प्रथम तल पर ही था। पुलिस कई राउंड तीनों र्संिधों से पूछताछ कर चुकी है। पुलिस की मानें तो घटना वाले दिन घर मे कुल 6 लोग मौजूद थे जिसमें तीन रोहित के भाई सिद्धार्थ शर्मा, घर के नौकर गोलू की पत्नी, एक और नौकरानी को क्लीन चिट दे दी गयी है।

पुलिस की मानें तो ड्राइवर अखिलेश फर्स्ट फ्लोर पर ही रहता था, जिस फ्लोर पर रोहित शेखर रहता था. फर्स्ट फ्लोर पर तीन कमरे हैं. एक में रोहित शेखर दूसरे कमरे में पत्नी अपूर्वा और तीसरे कमरे में ड्राईवर अखिलेश रहता था। पुलिस सूत्रों की मानें तो रोहित ओर अपूर्वा अलग अलग कमरे में रहते थे. जिस दिन रोहित की मौत हुई उस रात 12 बजे के बाद अपूर्वा रोहित के कमरे में गयी थी, अपूर्वा ने पूछताछ में बताया है कि उस दिन रोहित ओर उसके बीच फिजिकल रिलेशन बने थे उसके बाद वो अपने कमरे में चली गई थी। पुलिस का कहना है कि इसका जल्द ही खुलासा कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

यह भी पढ़ें:   हत्या का खुलासा, दो गिरफ्तार

यह भी पढ़ें:    नाबालिग को झांसा देकर रेप, आरोपी गिरफ्तार

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी