massiar-banner

सुशासन बाबू के राज में गुंडई की इंतहां

Foto

क्राइम न्यूज़ ,अपराध समाचार 

घर में घुसकर उठा ले गए किशोरी को, किया गैंगरेप


मुजफ्फरपुर। सुशासन बाबू के नाम से विख्यात बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए शर्मनाक खबर सामने आई है। इस खबर ने न सिर्फ बिहार सरकार के कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ा कर दिया है ​बल्कि मुख्यमंत्री के दावों की पोल खोलकर रख दी है। यहां कुछ दबंगों ने एक घर में सरेआम घुसकर परिजनों के सामने की एक 16 वर्षीय किशोरी के साथ गैंगरेप जैसी घटना के अंजाम दिया है। 

बताते चलें कि एक मामला मुजफ्फरपुर से सामने आया है,जहाँ दबंगों ने एक परिवार के सामने ही उसकी 16 साल की नाबालिग बेटीके साथ सामुहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दे डाला। कहा जा रहा कि घर के पास के ही चार लोगों ने इस  घटना को अंजाम दिया। इस दौरान दबंगों ने पीड़िता के परिजनों को जमकर पीटा। 

घटना मिठनपुरा थाना क्षेत्र की है। बताया जा रहा है कि आरोपी शेरू ठाकुर अपने कुछ साथियों के साथ नाबालिग के घर में घुसा और घरवालों के साथ मारपीट की। इसके बाद सभी आरोपी शेरू, चंदन, डबलु और टुटु घरवालों को घर में बंद कर नाबालिग को पास के बगीचे में उठाकर ले गए। जहां सभी ने नाबालिग के साथ गैंगरेप किया। 

पीड़िता ने सुबह मिठनपुरा थाना पुलिस को शिकायत दी। शिकायत मिलने के बाद हड़कत में आई पुलिस ने सभी आरोपियों के ठिकानों पर छापामारी की लेकिन  सभी आरोपी फरार है। 

पीड़िता के जीजा ने बताया कि बीती रात वे सभी खाना खाकर सोने की तैयारी में थे। तभी मकान मालिक का बहाना बनाकर सभी आरोपियों ने दरबाजा खटखटाया। जब दरवाजा नहीं खुला तो एक आरोपी खिड़की के रास्ते घर में चला आया। इसके बाद उसने घर का दरबाजा खोल दिया। फिर सभी घर के अंदर आ गए। पीड़िता के जीजा ने बताया कि सभी आरोपियों ने घरवालों के साथ मारपीट की और इसके बाद नाबालिग को जबरदस्ती उनके सामने ही उठाकर घर के बाहर बगीचे में ले गया। जहां सभी ने उसके साथ गैंगरेप किया। 

मिठनपुरा पुलिस इंस्पेक्टर विजय प्रसाद राय ने कहा है कि पुलिस अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी कर रही है।  पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए भेज दिया गया है।

 

यह भी पढ़ें- ट्रक में जा घुसी कार, 4 नेपाली नागरिकों की मौत, 3 घायल 

यह भी पढ़ें- पश्चिम बंगाल: आदिवासी महिला के साथ हैवानियत की सारी हदें पार, दो गिरफ्तार


 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी