यूपी: निकाह हलाला के नाम पर 4 लोगों ने किया बलात्कार

Foto

अपराध के समाचार

 

रामपुर। मुसलमानों में निकाह हलाला वह प्रथा है जो समुदाय के किसी व्यक्ति को अपनी तलाकशुदा पत्नी से फिर से निकाह करने पर मजबूर करता है। उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले से निकाह हलाला के नाम पर एक महिला के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना सामने आई है। महिला का आरोप है कि उसके पति के अलावा 3 अन्य लोगों ने हलाला के नाम पर उसके साथ बलात्कार किया। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने मामले में 9 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।   

 

यह भी पढ़ें- खतना मुस्लिम महिलाओं के साथ किया जाने वाला अमानवीय कृत्य है, इसका विरोध...
 

महिला ने बताया, 'मेरे पति ने मुझे तीन तलाक दिया जिसके बाद एक दूसरे शख्स से 3 महीने के लिए मेरी शादी करा दी गई लेकिन बाद में उसने किसी दूसरी महिला से शादी कर ली।'

बता दें, निकाह का मामला सुप्रीम कोर्ट में है। हाल ही में मुसलमानों में निकाह हलाला और बहुविवाह के खिलाफ एक और याचिका दायर की गई, जिस पर सुनवाई के दौरान सर्वोच्च न्यायालय ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है और मामले को मुख्य याचिका के साथ संबद्ध कर दिया है।

 

यह भी पढ़ें- पति के मोबाइल पर व्यस्त रहने से महिला ने की आत्महत्या  

 

यूपी के बुलंदशहर की रहने वाली 27 वर्षीय की महिला ने यह याचिका दायर की है। याची ने कहा है कि मुस्लिम पर्सनल लॉ की धारा-2 के उस प्रावधान को गैर-संवैधानिक करार दिया जाए, जिसमें बहु विवाह और निकाह हलाला को मान्यता दी गई है। क्योंकि ये समानता और मानव जीवन के अधिकार के खिलाफ है।

 

यह भी पढ़ें- गिड़गिड़ाती रहती युवती लेकिन नहीं पसीजे दरिंदे, और कर दिया...

 

क्या है निकाह-हलाला ?

निकाह-हलाला के तहत तलाकशुदा महिला को अपने पति के साथ दोबारा निकाह करने के लिए पहले किसी दूसरे पुरुष से निकाह करना होता है। दूसरे पति को तलाक देने के बाद ही वह महिला अपने पहले पति से निकाह कर सकती है, जबकि बहुविवाह नियम मुस्लिम पुरुष को चार पत्नी रखने की इजाजत देता है।

 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी