महिला का अपहरण के बाद रेप, एसएचओ सस्पेंड

Foto

 अपराध के समाचार/crime news 

मोहाली। महिलाओं के साथ रेप की घिनौनी वारदातें रुकने का नाम नहीं ले रही है। आए दिन आपराधी अपने मंसूबों को अंजाम दे रहे हैं। वहीं, पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। पुलिस की आरामफरमाइशी के कारण अपराधी खुले आम अपनी करतूतों को अंजाम देकर घूम रहे हैं। पंजाब स्थित मोहाली में कॉल सेंटर में काम करने वाली महिला को अगवा कर रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस घटना के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन फानन में एक्शन लेते हुए एसएचओ को निलंबित कर दिया गया। आला अफसरों ने आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस की टीम गठित कर दी है। 

खबरों के मुताबिक पीड़िता महिला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि गत मंगलवार को वह कॉल सेंटर से काम करके घर वापस लौट रही थी। इस बीच लक्की नाम के आरोपी ने कार रोकर पता पूछने का बहाना किया। उसे अगवा कर लिया गया। आरोपी नन्नूमाजरा नामक स्थान पर लेकर उसे पहुंचे और मारपीट कर रेप की वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद आरोपी महिला को वहां छोड़कर फरार हो गए। 

पीड़िता जब दरिंदों के चंगुल से छूटी तो पति को फोन कर आपबीती सुनाई। इसके बाद पुलिस में आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। मामले को गंभीरता से लेकर मौके पर खुद पहुंचने की बजाए एसएचओ दिलजीत सिंह भुल्लर ने एक महिला कांस्टेबल को भेज दिया। यही नहीं आरोप है कि एसएचओ ने मामले को लटकाना भी चाहा। वहीं, एसपी हरचरण सिंह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएचओ को लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया। पीड़िता ने आरोपियों का हुलिया पुलिस में एफआईआर दर्ज कराते हुए बताया है। वहीं, पुलिस की टीम आरोपियों की तलाश के लिए सीसीटवी व अन्य पहलुओं पर जांच में जुट गई है।

यह भी पढ़ें:बाराबंकी के नहर में मिला राजधानी के छात्र का शव

यह भी पढ़ें:5 लाख की ठगी मामले में निजी कंपनी के संचालकों पर मामला दर्ज 


 

leave a reply

क्राइम-अपराध 

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी