परीक्षाफल घोषित करने में विफल अंबेडकर विश्वविद्यालय 

Foto

         

Education/शिक्षा

लखनऊ। अंबेडकर विश्वविद्यालय ने बीकॉम, एमकॉम,एमए के बाद अब बीएससी का अधूरा परीक्षाफल किया घोषित परीक्षाफल घोषित करने में विफल आंबेडकर विश्वविद्यालय कागजी आंकड़ेबाजी में जुटा है। अंबेडकर विश्वविद्यालय के मुख्य परीक्षा में 5 लाख छात्र शामिल हुए थे। अंबेडकर विश्वविद्यालय प्रशासन ने मई में परीक्षा फल घोषित करने का दावा किया था, फिलहाल अभी मूल्यांकन पूरा नहीं हो सका है। 

कॉलेजों में प्रायोगिक परीक्षाएं नहीं हुई हैं। ऐसे में अंबेडकर विश्वविद्यालय प्रशासन ने आंकड़ेबाजी के लिए बीकॉम,एम कॉम,एमए,एमएससी का अधूरा परीक्षाफल घोषित किया है।बीए और बीएससी तीनों वर्ष में करीब 3.50 लाख छात्र हैं।इनमें से बीएससी तृतीय वर्ष के 64 हजार छात्रों में से 6300 छात्रों का परीक्षाफल घोषित हुआ है। 

सूत्रों के मुताबिक,अंबेडकर विश्वविद्यालय प्रशासन कुछ छात्रों का परीक्षा फल घोषित कर कुलाधिपति कार्यालय में रिपोर्ट भेज रहा है। इसमें पाठ्यक्रम का नाम और परीक्षाफल घोषित कर ब्योरा दिया जा रहा है। कितने छात्रों का परीक्षा फल घोषित हुआ है,यह स्पष्ट नहीं किया गया है। 

अंबेडकर विश्वविद्यालय के पीआरओ डॉ गिरजा शंकर शर्मा ने बताया कि कॉलेजों को नोटिस दिए गए हैं,जिससे वे प्रायोगिक परीक्षा के अंक भेज दें। प्रायोगिक परीक्षा के अंक प्राप्त होने के बाद पूर्ण परीक्षा फल घोषित कर दिया जाएगा।

यह भी पढें   प्रेमी संग भाग रही विवाहित महिला को परिजनों ने पकड़ कर किया पुलिस के हवाले

यह भी पढें   एग्जिट पोल में मोदी और एनडीए को स्पष्ट बहुमत

leave a reply

शिक्षा

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी