राजकीय पॉलीटेक्निक में प्रधानाचार्यों ने बजट पर की चर्चा

Foto

शिक्षा के समाचार/Education news


लखनऊ। राजकीय पॉलीटेक्निक में गुरुवार को बुलायी गयी प्रधानाचार्यों की बैठक में आगामी बजट के बारे में चर्चा हुई। बैठक में प्रधानाचार्यों ने अपनी-अपनी मांग को रखा। इसकी अध्यक्षता करते हुए प्राविधिक शिक्षा निदेशक आरसी राजपूत ने प्रधानाचार्यों से उनकी जरूरतों के बारे में जानकारी ली। बैठक में बुंदेलखण्ड और पश्चिमी जोन के प्रधानाचार्य शामिल हुए। इसमें वर्तमान वित्त वर्ष 2018-19 और आगामी वित्त वर्ष 2019-20 के बजट पर चर्चा हुई।

 


कितना मिला बजट


प्राविधिक शिक्षा निदेशक ने सभी प्रधानाचार्यों से जानने का प्रयास किया कि चालू वित्तीय वर्ष में जिला योजना और विभाग से कितना बजट मिला है। इसमें कितना खर्च हो चुका है और शेष कितना है। उन्होंने सभी प्रधानाचार्यो से कहा कि समय से बजट का उपयोग किया जाये। जिससे संस्था और विद्यार्थियों को इसका पूरा लाभ मिल सके। उन्होंने प्रधानयार्यो का आश्वस्त किया कि यदि उन्हें किसी प्रकार की कोई समस्या और समय से धनराशि नहीं मिल पा रही है, तो उसका समाधान शीघ्र किया जायेगा। निदेशक आरसी राजपूत ने दोनों जोन के प्रधानाचार्यों से अगले वित्तीय वर्ष के बजट के लिए उनकी मांग पूछी।

 


 छात्रावास के लिए मांगा बजट


राजपूत ने बताया कि आगामी वित्तीय वर्ष के बजट के प्रस्ताव में कई पॉलीटेक्निक संस्थाओं ने महिला और पुरुष नये छात्रावास के लिए बजट की मांग की। इसमें महिला छात्रावास की काफी मांग है। उन्होंने बताया कि अधिकांश पॉलीटेक्निक ने भवन के मर मत और रंगरोगन के लिए धनराशि की मांग की है। आरसी राजपूत के अनुसार विभाग को आगामी वित्तीय वर्ष के लिए बजट 27 नव बर तक शासन को भेजना है।

यह भी पढ़ें...क्या आपके साथ भी आॅफिस में हो रही है राजनीति? इन आसान टिप्स से पाएं छुटकारा

यह भी पढ़ें...स्कूल में अचानक पहुंचे एसडीएम, युवती के साथ ऐसी हाल में शिक्षक को देख उड़ गए... 

leave a reply

शिक्षा

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी