एशियन गेम्स 2018 : जो आज तक कोई नहीं कर पाया वो सिंधु ने कर दिखाया

Foto

Sports News / खेल समाचार

नई दिल्ली। एशियन गेम्स के 18वें संस्करण में पीवी सिंधु ने वो कर दिखाया जो आज तक कोई बैडमिंटन प्लेयर नहीं कर पाया था। पीवी सिंधु एशियन गेम्स के बैडमिंटन फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गई है। अब भारत की स्टार शटलर का मकसद गोल्ड जीतना होगा।

बता दें कि सिंधु ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला है। इस वर्ष हुए वर्ल्ड चैंपियनशिप और कॉमनवेल्थ गेम्स में पीवी सिंधु ने रजत जीता था। इसके अलावा 2014 में इंचियोन एशिया में महिला टीम स्पर्धा में कांस्य जीता था।

यह भी पढ़ें: एशियन गेम्स 2018 : हार के बावजूद साइना ने रचा इतिहास

पीवी सिंधु ने जापान की अकाने यामागुची को 21-17, 15-21, 21-10 से मात देकर यह सफलता हासिल की। अब उनका मुकाबल विश्व की नंबर एक शटलर चीनी ताइपे की ताई जू युंग से होगा। बता दें कि चीनी ताइपे की ताई जू युंग ने भारतीय शटलर साइना नेहवाल को हराकर फाइनल में अपनी जगह पक्की की है। इस हार के साथ ही साइना को कांस्य से संतोष करना पड़ा।

पदक तालिक में इस समय भारत 9वें स्थान पर है। भारत ने कुल 37 पदक हासिल किए है। इसमें 7 स्वर्ण, 10 रजत और 20 कांस्य शामिल है।

यह भी पढ़ें: हिमा दास ने दो दिन में दो बार तोड़ा राष्ट्रीय रिकार्ड

leave a reply

खेल

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी