स्वर्ग में भी क्रिकेट धन्य हो गया होगा : तेंदुलकर

Foto

Sports News / खेल समाचार

नई दिल्ली। अपने बचपन के कोच रमाकांत आचरेकर को भावभीनी श्रद्धांजलि देते हुए चैम्पियन क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने कहा, ‘आचरेकर सर की मौजूदगी से स्वर्ग में भी क्रिकेट धन्य हो गया होगा।’ आचरेकर का 87 वर्ष की उम्र में बढती उम्र से जुड़ी बीमारियों के कारण आज मुंबई में निधन हो गया। 

उनके सबसे काबिल शिष्य ने एक बयान में कहा, ‘उनके कई छात्रों की तरह मैने भी क्रिकेट का ककहरा सर के मार्गदर्शन में सीखा।’ उन्होंने कहा, ‘मेरी जिंदगी में उनके योगदान को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। उन्होंने वह नींव बनाई जिस पर मैं खड़ा हूं।’ 

आधुनिक क्रिकेट के महानतम बल्लेबाज तेंदुलकर को आचरेकर सर मुंबई के शिवाजी पार्क में कोचिंग देते थे। आचरेकर ने खुद एक ही प्रथम श्रेणी मैच खेला लेकिन तेंदुलकर के कैरियर को संवारने में उनका बड़ा योगदान रहा। वह अपने स्कूटर से उसे स्टेडियम लेकर जाते थे। 

तेंदुलकर ने कहा, ‘पिछले महीने मैं सर से उनके कुछ छात्रों के साथ मिला और हमने कुछ समय साथ बिताया। हमने पुराने दौर को याद करके काफी ठहाके लगाये।’ 

उन्होंने कहा, ‘आचरेकर सर ने हमें सीधा खेलने और जीने का महत्व बताया। हमें अपनी जिंदगी का हिस्सा बनाने और अपने अनुभव को हमारे साथ बांटने के लिये धन्यवाद सर।’ उन्होंने आगे लिखा, ‘वेल प्लेड सर। आप जहां भी हैं, वहां और सिखाते रहें।’

यह भी पढ़ें: 37 सालों के बाद जीती टीम इंडिया

यह भी पढ़ें: भारत ने तोड़ा 39 साल पुराना रिकॉर्ड

leave a reply

खेल

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी