लखनऊ स्पोर्ट्स हास्टल खिताबी होड़ में, फाइनल में एनसीआर से होगी टक्कर

Foto

खेल के समाचार/sports news

तृतीय राज्य सीनियर प्राइजमनी महिला हॉकी चैंपियनशिप

लखनऊ। स्थानीय लखनऊ स्पोर्ट्स हास्टल की तेजतर्रार टीम ने तृतीय राज्य सीनियर प्राइजमनी महिला हॉकी चैंपियनशिप के रोमांचक सेमीफाइनल में एनई रेलवे की अनुभवी टीम को 2-0 से मात देते हुए फाइनल में जगह बना ली। शांति फाउंडेशन ट्रस्ट के तत्वावधान में गोमतीनगर स्थित पद्मश्री मो.शाहिद सिंथेटिक हॉकी स्टेडियम में खेली जा रही इस चैंपियनशिप में पहले सेमीफाइनल में पिछले संस्करण की विजेता एनसीआर प्रयागराज ने एसएसबी को पेनाल्टी शूटआउट में 3-1 से मात दी। 

अब कल होने वाले फाइनल मुकाबले में एनसीआर प्रयागराज का सामना लखनऊ स्पोर्ट्स हास्टल की टीम से होगा। एनसीआर जहां कल तीसरी बार खिताब जीतने की कोशिश करेगी तो स्पोर्ट्स हास्टल पिछली बार की कसक को पीछे छोड़ते हुए इस बार खिताब जीतने उतरेगी। एनसीआर इस चैंपियनशिप के 2016 व 2017 में आयोजित संस्करण में विजेता रही थी जबकि स्पोर्ट्स हास्टल पिछले संस्करण में उपविजेता रही थी। 

पहला सेमीफाइनलः एनसीआर प्रयागराज ने एसएसबी को शूटआउट में 3-1 से हराया
\r\nपिछले संस्करण की विजेता एनसीआर प्रयागराज व एसएसबी के मध्य खेले गए पहले सेमीफाइनल में एसएसबी की टीम ने तेज शुरूआत की कोशिश की लेकिन एनसीआर की फारवर्ड ने अपने ताबड़तोड़ आक्रमण से प्रतिद्वंद्वी पर दबाव बना लिया।

हालांकि पहले हॉफ में एनसीआर के आक्रमण को एसएसबी की चुस्त गोलकीपर अल्फा ने बखूबी रोका तो एसएसबी के आक्रमण के सामने एनसीआर की गोलकीपर खरीबम बिछू देवी दीवार की तरह अडिग खड़ी रही। पहला हॉफ गोल रहित रहा।

दूसरे हॉफ में एनसीआर ने तेज आक्रमण का सहारा लिया और एसएसबी पर आक्रमण की झड़ी लगा दी। वहीं एसएसबी की खिलाड़ियों ने भी कई शानदार मूव बनाए और एनसीआर के गोलपोस्ट तक पहुंच गई लेकिन प्रतिद्वंद्वी की चुस्त रक्षा पंक्ति व फुर्तीले गोलकीपर ने उनको नाकाम कर दिया।

हालांकि निर्धारित समय में कोई गोल न हो पाने के चलते पेनाल्टी शूटआउट का सहारा लिया गया जिसमें एनसीआर की ओर से इशिका चौधरी, साधना और वंदना रानी ने सफल शॉट खेले जबकि एसएसबी से सिर्फ अंजिका ही गोल कर सकी। अंत में एनसीआर ने 3-1 से मैच जीतते हुए फाइनल में जगह बनाई। वहीं पिछले संस्करण के सेमीफाइनल में एनसीआर से हार का सामना कर चुकी एसएसबी इस बार भी जीत नहीं सकी। 

दूसरा सेमीफाइनलः लखनऊ स्पोर्ट्स हास्टल ने एनई रेलवे को 2-0 से हराया
पिछले संस्करण की उपविजेता लखनऊ स्पोर्ट्स हास्टल ने अपनी चुस्ती और फिटनेस के साथ उम्दा तकनीक का प्रदर्शन करते हुए दूसरे सेमीफाइनल में एनईरेलवे की अनुभवी टीम को 2-0 से मात देते हुए फाइनल में जगह बनाई।

इस मैच में शुरू से ही दोनों टीमों ने तेज आक्रमण के सहारे दबाव बनाने की कवायद की और प्रतिद्वंद्वी के खेमे में लगातार आक्रमण जारी रखे लेकिन दोनों ही टीमों के डिफेंस ने शानदार खेल दिखाया जिसके चलते कोई गोल नहीं हो सका।

इस दौरान मिले पेनाल्टी कार्नर को भी टीमें भुनाने में नाकाम रही। पहला हॉफ गोल रहित रहने के बाद दूसरे हॉफ में लखनऊ स्पोर्ट्स हास्टल की खिलाड़ियों ने समन्वय बनाते हुए बेहतर फिटनेस के साथ चुस्ती दिखाई तो एनईरेलवे की अनुभवी टीम पर थकान हावी होती दिखी। हालांकि एनईआर ने कुछ शानदार मूव बनाए लेकिन गोल करने में नाकाम रही। इसी दौरान हास्टल से सोनाली तेजी से गेंद को लेकर आगे बढ़ी जिसे एनईरेलवे की डिफेंडर रोकने में नाकाम रही।

सोनाली ने यह गोल 53वें मिनट में दागकर टीम का खाता खोला। इसके छह मिनट बाद टीम की स्टार मुमताज खान ने गोल दागकर हास्टल की बढ़त 2-0 कर दी। इसके बाद पूरे मैच में कोई गोल नहीं हो सका। अंत में लखनऊ स्पोर्ट्स हास्टल ने 2-0 से जीतते हुए फाइनल में जगह बनाई। 

इस सेमीफाइनल मैच के मुख्य अतिथि इं.आनन्द शेखर सिंह (बाबू सुंदर सिंह इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट) के साथ विशिष्ट अतिथिगण नवाब अमीर तकी खान (राजकुमार महमूदाबाद), श्रीमती नसीम रजा, मासूम रजा (स्कूल संचालक), श्री मान सिंह चौहान (आईपीएस) और श्रीमती वीना चौहान (शिक्षा विभाग) ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया। 

पहले सेमीफाइनल के मुख्य अतिथि नीरज सिंह (वरिष्ठ नेता, भाजपा) के साथ विशिष्ट अतिथिगण डा.श्वेता सिंह (वरिष्ठ उपाध्यक्ष, भाजपा अवध प्रांत), मंजू बिष्ट (एशियन मेडलिस्ट हॉकी खिलाड़ी), रजिया जैदी (ओलंपियन हॉकी खिलाड़ी), हरिप्रिया (इंटरनेशनल हॉकी खिलाड़ी), आनंद द्विवेदी (नगर उपाध्यक्ष, भाजपा) और पार्षद शैलेंद्र द्विवेदी ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया।

यह भी पढ़ें:    महिला क्रिकेट : 1 रन से हारा भारत, इंग्लैंड ने किया क्लीन स्वीप

यह भी पढ़ें:   BCCI ने ठुकराया PCB का निमंत्रण, PSL फाइनल मैच का था बुलावा

 

leave a reply

खेल

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी