मिताली राज का आरोप, 'सत्ता में बैठे कुछ लोग मुझे बर्बाद करना चाहते है'

Foto

Sports News / खेल समाचार

नई दिल्ली। टी-020 विश्व कप के फाइनल में मिताली राज को प्लेइंग इलेवन में मौका नहीं देने के मामले ने गंभीर रूप अख्तियार कर लिया है। भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी क्रिकेटर और एकदिवसीय टीम की कप्तान मिताली राज ने टीम के कोच रमेश रमेश पवार और प्रशासकों की समिति (सीओए) की सदस्य डायना इडुल्जी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मिताली राज का आरोप है कि उन्हें टीम से बाहर करने का समर्थन करने वाली इडुल्जी ने उनके खिलाफ अपने पद का फायदा उठाया है। इस संदर्भ में मिताली ने बीसीसीआई को एक चिट्ठी भी लिखी है।

बीसीसीआई को चिट्ठी लिखते हुए मिताली ने आरोप लगाया, 'मेरा हरमनप्रीत कौर के साथ कोई विवाद नहीं है, लेकिन वो कोच रमेश पवार के फैसले में उनके साथ थी। रमेश पवार ने मुझे प्लेंइग इलेवन से बाहर रखने का फैसला किया और उनके इस फैसले का हरमनप्रीत ने समर्थन किया।' आगे मिताली लिखती है, 'मैं देश के लिए विश्व कप जीतना चाहती थी और इसका मुझे बेहद दुख है। हमने एक सुनहरा मौका गंवा दिया।

मिताली ने पवार के खिलाफ लिखा, 'अगर मैं कहीं बैठी हूं तो वह उस जगह से निकल जाते थे। दूसरों को नेट पर बल्लेबाजी करते समय देखते थे लेकिन जब मैं बल्लेबाजी कर रही होती थी तो वो रूकते नहीं थे। जब मैं उनसे बात करने जाती थी तो फोन देखने लगते था या वहां से चले जाते थे। यह मेरे लिए बेहद अपमानजनक था। यह सभी को दिख रहा था कि मेरा अपमान हो रहा है। फिर भी मैंने अपना आपा नहीं खोया.’

इसके बाद मिताली ने इडुल्जी पर आरोप लगाते हुए कहा कि सेमीफाइनल मुकाबले से मुझे बाहर किये जाने के फैसले का उन्होंने समर्थन किया। यहां तक की मीडिया में भी इडुल्जी ने टीम मैनेजमेंट के इस फैसले को सही ठहराया था। इडुल्जी ने मेरे सा​थ पूरी तरह पक्षपात किया है।

इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में मिताली राज को भारतीय टीम के प्लेइंग इलेवन से बाहर रखा गया था। इस मुकाबले में टीम को आठ विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद टीम मैनेजमेंट और कप्तान हरमनप्रीत कौर के इस फैसले पर सवाल उठने लगे थे। इस इस बढ़ते विवाद के बीच मिताली राज ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि बीसीसीआई की सत्ता में बैठे कुछ लोग मेरा करियर बर्बाद करना चाहते है।

यह भी पढ़ें: हरमनप्रीत कौर की बड़ी उपलब्धि, बनीं ICC महिला विश्व T20 एकादश की कप्‍तान

यह भी पढ़ें: टूट गई भारतीय महिला क्रिकेट टीम की विश्व विजय की उम्मीद

 

leave a reply

खेल

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी