ओलंपियन हरदयाल सिंह ने दुनिया को कहा अलविदा

Foto

Sports News/ खेल समाचार 

नई दिल्ली।भारत को ओलंपिक में गोल्ड दिलाने वाले हॉकी खिलाड़ी हरदयाल सिंह का 87 साल की उम्र में निधन हो गया। 1956 में मेलबर्न ओलंपिक में हरदयाल सिंह ने देश को गोल्ड दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वह देहरादून में अपने परिवार के साथ रहते थे।

भारत का गौरव हरदयाल सिंह के निधन से खेल जगत को गहरा सदमा लगा है। हरदयाल 1972 से 1987 तक भारतीय हॉकी टीम के कोच भी रहे। भारत सरकार द्वारा 2004 में उन्हें ध्यानचंद पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 

 

यह भी पढ़ें: जश्न-ए-आज़ादी पर पड़ोसी मुल्क से आया पाक संदेश

 

साल 1956 को मेलबर्न में हुए ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम का शानदार प्रदर्शन रहा था। हरदयाल सिंह ने शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए पांच गोल दागे थे और भारतीय टीम को जीत दिलाई थी। उनके शानदार प्रदर्शन के सहयोग से भारत ने गोल्ड हासिल किया था। 

 

यह भी पढ़ें: एशियन गेम्स 2018: खिलाड़ियों को हर मेडल अटल के नाम

 

ओलंपियन हरदयाल का उत्तराखंड से विशेष लगाव रहा है लेकिन स्वास्थ्य खराब होने पर राज्य सरकार द्वारा उन्हें कोई खास मदद नहीं मिली थी। उनका जीवन का अंतिम समय आर्थिक समस्याओं से गुजरा था। हालांकि उन्हें पंजाब सरकार की ओर से मदद मिली थी।

उत्तरखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर हरदयाल सिंह को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने लिखा, 'सन 1956 ओलंपिक में हॉकी के स्वर्ण पदक विजेता टीम के सदस्य, उत्तराखंड निवासी ध्यानचंद अवार्ड से सम्मानित ओलंपियन हरदयाल सिंह जी का निधन भारतीय खेल के लिए अपूरणीय क्षति है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें व दु:ख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की शक्ति दें।'

 

leave a reply

खेल

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी