सीनियर राष्ट्रीय कुश्ती चैंपियनशिप : विनेश और साक्षी की जीत के साथ सीजन का अंत

Foto

Sports News / खेल समाचार

गोंडा। देश की दो स्टार महिला पहलवान विनेश फोगाट (57 किग्रा) और साक्षी मलिक (62 किग्रा) ने 62वें सीनियर राष्ट्रीय कुश्ती चैंपियनशिप के फाइनल में अपने-अपने भार वर्ग में चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया।

विनेश ने 57 किलोग्राम भारवर्ग के फाइनल में बबीता को 10-0 से मात देकर सफलताओं से भरे साल का शानदार अंत किया। 

खराब फार्म में चल रही साक्षी ने 62 किलोग्राम भार वर्ग के फाइनल में जीत दर्ज कर साल का अंत खिताब के साथ किया। रियो ओलंपिक के बाद साक्षी के लिए यह पहली बड़ी खिताबी जीत है। 

विनेश ने अपने छठे राष्ट्रीय खिताब को जीतने के क्रम में सिर्फ दो अंक गवांये। वह विभिन्न भार वर्गों में 2012 से 2016 तक पांच बार राष्ट्रीय चैंपियन रह चुकी हैं। 

उन्होंने पहले दौर के मैच में चंडीगढ़ की नीतू को 13-2 से मात देने के बाद कर्नाटक की स्वेता बालागत्ती को हराकर क्वार्टरफाइनल में जगह पक्की की। क्वार्टरफाइनल में विनेश ने हरियाणा की मनीषा को तकनीकी दक्षता के आधार पर हराया। सेमीफाइनल में उन्होंने हरियाणा बी की रविता को महज 76 सेकंड में शिकस्त दी।

साक्षी को भी खिताब जीतने के लिए ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ी। उन्होंने बिना कोई अंक गवांये यह खिताब हासिल किया। उन्होंने पहले मुकाबले में वाकओवर मिलने के बाद दूसरा मुकाबला महज 25 सेकंड में अपने नाम कर लिया। उनकी प्रतिद्वंद्वी अनीता ने घुटने की चोट के कारण बीच में ही मैच छोड़ दिया।

उन्होंने क्वार्टरफाइनल में मणिपुर की ए लुवांग खोंबी को मात्र 43 सेकंड में शिकस्त दी। इस ओलंपिक पदकधारी ने हरियाणा की पूना को सेमीफाइनल में 11-0 से पटखनी दी। 

इस साल शानदार प्रदर्शन करने वाली ऋतु मलिक 65 किलोग्राम भारवर्ग के सेमीफाइनल में हार गयी। उन्होंने 2010 राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता अनीता ने हराया। ऋतु को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। अनीता ने फाइनल में गीतिका जाखड़ को हराकर स्वर्ण पदक हासिल किया। इंदु चौधरी (50 किग्रा), पिंकी (55 किग्रा) और किरण विश्नोई (72 किग्रा) भी अपने-अपने भार वर्ग में खिताब जीतने में सफल रहे।

यह भी पढ़ें: पुरुष हॉकी विश्व कप 2018 का उद्घाटन आज, शामिल होंगे कई बॉलीवुड कलाकार

यह भी पढ़ें: मैरी कॉम का स्वर्ण पर पंच, छह बार बनी वर्ल्ड चैंपियन

leave a reply

खेल

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी