भैंगापन के लक्षण देखते ही कराएं फौरन इलाज

Foto

       

Health/स्वास्थ्य 

भैंगापन एक गंभीर बीमारी है यह बीमारी बचपन से ही हो जाती है। भौंगापन की समस्या बच्चों में पहचानने में थोड़ी मुश्किल होती है। पर हर माता पिता को बच्चों को बचपन से ही इस बात का ख्याल जरूर रखना चाहिए कि यह गंभीर बीमारी आंखों की मांसपेसियों की कमजोरी की वजह से होती है। इस बीमारी को डॉक्टरों का भी मानना है कि इसे लेकर शुरूआती दौर में इसे आंखों की एक्सरसाइज के माध्यम से दूर किया जा सकता है। 

डॉक्टरों का मानना है कि लेजी आई सिंड्रोम के मुख्य कारणों में भौंगपन दोनों आंखों के चश्मे की पावर में अंतर और नंबर के अधिक होने को शामिल किया जाता है। इसके अलावा कॉनिया में निशान पड़ने से भी लेजी आई सिंड्रोम होने से बढ़ जाती है। लेजी आई सिंड्रोम का पता बच्चों की आंख की प्रारांभिक स्क्रीनिंग के माध्यम से लगाया जा सकता है। और इसके इलाज के लिए मस्कुलर एक्सरसाइज कराई जाती है। 

क्या है भौंगपन के लक्षण 

अंदर या बाहर की ओर अपने आप आंखों की पुतलियों का घूमना

भौंगापन में आंखों की पुतलियां एक साथ नहींं घूमती है।

आंखों से चीजों को साफ दिखाई नहीं देना और सिर का एक ओर झुकना  

leave a reply

स्वास्थ्य

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी