इस चिकित्यालय से बड़ी आबादी को मिलेगा स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ:बृजेश पाठक

Foto

स्वास्थ्य के समाचार/health news

ग्वारी नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का विधिमंत्री ने किया लोकार्पण

लखनऊ कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक ने नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, ग्वारी गोमती नगर का रविवार को लोकार्पण किया। इस अवसर पर विशिष्ट राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्रीमती स्वाति सिंह,महापौर संयुक्ता भाटिया,क्षेत्रीय पार्षद राम कृष्ण यादव भी उपस्थित थे।इस चिकित्सालय के खुलने से लगभग 40,000 की जनसंख्या को स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकेगी।

इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए मंत्री बृजेश पाठक ने कहा कि इस क्षेत्र में बहुत लंबे समय से चिकित्सालय की मांग की जा रही थी क्षेत्रीय सभासद राम कृष्ण यादव लगातार इसके लिए प्रयास कर रहे थे और इसके लिए उन्होंने नगर निगम का भवन दिलवाने में अथक प्रयास किया।

श्री पाठक ने कहा कि चिकित्सालय के खुलने से क्षेत्र की जनता को चिकित्सा सुविधाएं अपने घर के समीप ही मिल सकेंगी। उन्होंने कहा कि मैं प्रयास करूंगा कि यहां पर एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खुल सके तथा इस चिकित्सालय में प्रसव की सुविधा भी उपलब्ध हो सके।

उन्होने कहा कि इस चिकित्सालय के माध्यम से   दूर दराज इलाके की एक बहुत पुरानी मांग पूरी हो रही है। इस क्षेत्र में एक चिकित्सालय की आवश्यकता बहुत लंबे समय से अनुभव की जा रही थी जिसकी पूर्ति मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा की गई है।

उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.नरेंद्र अग्रवाल की भी प्रशंसा की। श्री पाठक ने कहा कि इस चिकित्सालय के माध्यम से आसपास के लोगों को विशेषज्ञ महिला चिकित्सक की सुविधा मिल सकेगी। इसके साथ ही दवाओं का निशुल्क वितरण, गर्भवती महिलाओं की निशुल्क जांच की सुविधा ,आधारभूत जांच सेवाएं तथा गैर संचारी रोगों के लिए जांच की सेवा उपलब्ध रहेगी। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का पंजीकरण भी किया जाएगा। 

राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार स्वाती सिंह ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत अभी तक  जनपद लखनऊ में 23406 लोगों को कुल 6 करोड़ 66 लाख रुपए उनके खातों में भेजे जा चुके हैं। उन्होंने बताया इस चिकित्सालय में टीबी की जांच तथा उपचार की निशुल्क सुविधा भी प्राप्त होगी और टी बी के रोगियों को निक्षय पोषण योजना के अंतर्गत 6 महीने तक ₹500 प्रतिमाह प्राप्त होंगे।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.नरेंद्र अग्रवाल ने बताया नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में प्रसव की सुविधा उपलब्ध कराने का पूरा प्रयास करूंगा। जिससे क्षेत्र में गर्भवती महिलाओं को सुविधा मिल सके। इस नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के अंतर्गत 5 नगरीय आशाओं की नियुक्ति गई है जिनके द्वारा हम हर घर तक स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने में सफल होंगे।

यह नगरीय आशाए  अपने-अपने क्षेत्रों में महिला आरोग्य समितियों का गठन करेंगी,जिसमें प्रत्येक समिति में 10 से 20 महिलाएं सदस्य होंगी। प्रत्येक महिला आरोग्य समिति के खाते में प्रतिवर्ष ₹5000 की राशि भारत सरकार द्वारा जमा की जाएगी। इस धनराशि का उपयोग समिति अपने विवेका अनुसार स्वास्थ्य सफाई तथा पेयजल से संबंधित समस्याओं के निराकरण हेतु कर सकेगी।

कार्यक्रम में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी  डॉ.अनूप श्रीवास्तव ,डॉ.आर वी सिंह, डॉक्टर आरके चौधरी,डॉ. डीके बाजपेई ,जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ बीके सिंह,  जिला कुष्ठ रोग अधिकारी डॉ.पी के अग्रवाल,उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वाई के सिंहए डॉ. केपी त्रिपाठी भी उपस्थित थे। समारोह का संचालन डॉ एस के सक्सेना ने किया।इस अवसर पर महापौर संयुक्ता भाटिया ने आयुष्मान भारत योजना के 4 लाभार्थियों अर्जुन यादव,जमुना देवी उमेश तथा अनीता को गोल्डन कार्ड भी वितरित किए।

यह भी पढ़ें:   14 गांवों में 812 मरीजों को एमएमयू ने उपलब्ध कराया उपचार

यह भी पढ़ें:    परिवार कल्याण मंत्री ने आलमबाग में रखी नये अस्पताल की नींव

leave a reply

स्वास्थ्य

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी