टेली कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आधा दर्जन जिलों के मरीजों का इलाज करेगा, जीसीआरजी   

Foto

Health/स्वास्थय

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री राष्ट्रीय स्वस्थ्य मिशन के तहत पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 12 जनपदों की सेंटर 130 सीएचसी का कमांड सेंटर जीसीआरजी इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस को बनाया गया। इंस्टीट्यूट के चेयरमैन डॉ अभिषेक यादव ने बताया इसमे से 18 सीएचसी से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग से इलाज शुरू भी हो चुका है। इनसे प्रतिदिन लगभग 25 से 35 मरीजो की जांच और परामर्श दिया जा रहा है। 

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के यह 12 जनपद जिसमें बहराइच ,गोंडा, श्रावस्ती ,बलरामपुर, महराजगंज, सन्तकबीर नगर कुशी नगर ,गोरखपुर, आजमगढ़ ,बस्ती ,देवरिया और मऊ भी शामिल है। 

आधा दर्जन सीएचसी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हो सकती है।

ट्रायल में 38 वर्षीय अनुराधा सिंह को पेट दर्द, सीने का दर्द , हाइपर टेंशन की शिकायत थी, बहराइच के विशेश्वरगंज सीएचसी पर जब वह अपनी परेशानी का इलाज कराने पहुची तो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा, सीएचसी स्टाफ ने उनकी जीसीआरजी टेली मेड़ीसिंन सेंटर में उपस्थित विशेषज्ञ डॉक्टर एकता से ऑनलाइन बात करवाई गई  उनकी रिपोर्ट की जांच के बाद इलाज शुरू हुआ। 

इस प्रकार बिना कहीं भटके प्रदेश में सीएचसी पर ही मरीजो को आसान इलाज मिल रहा है।जीसीआरजी टेली मेडिसिन सेंटर के प्रभारी विवेक सिंह ने बताया कि उनके सेंटर से एक बार मे एक साथ आधा दर्जन सीएचसी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हो सकती है। यहां पर जनरल मेडिसिन, स्त्री रोग विशेषज्ञ, अस्थी रोग, विशेषज्ञ गेस्ट्रोलॉजी, ओन्कोलॉजी, चर्म रोग विशेषज्ञ, कार्डियोलॉजी, न्यूरोलॉजी सहित स्पेशलिस्ट आदि विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम मौजूद है।
 

यह भी पढ़ें:  मगंलवार को आंधी-तूफान आने से कई राज्यों जन जीवन अस्तव्स्त  

यह भी पढ़ें:  महागठबंधन नफरत की दीवार गिराने का काम कर रही है  

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी ने आरएसएस पर साधा निशाना, भागवत बोले हर 5 साल में बदल सकती है सरकार   

 

leave a reply

स्वास्थ्य

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी