आर्मी डे : भारतवासी चैन से सोते है क्योंकि आप हमेशा सतर्क रहते हैं...

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्ली। आज भारतीय सेना अपना 71वां आर्मी डे मना रही है। भारतीय सेना दिवस पर बहादुर जवानों के बलिदान और दृढ़ संकल्प को कृतज्ञ राष्ट्र याद कर रहा है। 

15 जनवरी 1949 में ​फील्ड मार्शल केएम करियप्पा ने जनरल फ्रांसिस बुचर से भारतीय सेना की कमान ली थी। फ्रांसिस बुचर भारत के अंतिम ब्रिटिश कमांडर इन चीफ थे। फील्ड मार्शल केएम करियप्पा भारतीय आर्मी के पहले कमांडर इन चीफ बने थे। करियप्पा के भारतीय थल सेना के शीर्ष कमांडर का पदभार ग्रहण करने के उपलक्ष्य में हर साल यह दिन मनाया जाता है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश को सेना दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा, 'सेना दिवस के अवसर पर भारतीय सेना के सभी फौजी भाई-बहनों, युद्धवीरों और उनके परिवारों को बधाई। आप हमारे राष्ट्र के गौरव हैं और हमारी आजादी के रखवाले। सभी भारतवासी चैन की नींद सो सकते है, क्योंकि उन्हें भरोसा है कि आप हमेशा चौकन्ने और सतर्क रहते हैं।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना दिवस के मौके पर देश के जवानों और उनके परिवारों को भी शुभकामनाएं दी है। अपने ट्वीट संदेश में पीएम मोदी ने कहा कि देश को अपने बहादुर सैनिकों पर गर्व है। सेना दिवस के अवसर पर हमारे जवानों, पूर्व सैनिकों और उनके परिवारों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं। हम सभी देशवासियों को अपने सैनिकों के दृढ़ संकल्प एवं समर्पण पर गर्व है। मैं उनके अदम्य साहस एवं वीरता को प्रणाम करता हूं।

यह भी पढ़ें: नेशनल यूथ डे : 'रीढ़ की हड्डी है देश का युवा'

यह भी पढ़ें: बर्थडे स्पेशल : 'जेंटलमैन गेम' के जेंटल राहुल द्रविड़

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी