8वर्षीय बच्चे के हौसले को सलाम, चढ़ गया ऑस्ट्रेलिया का सबसे ऊंचा पहाड़

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार


नई दिल्ली। हौसला और जज्बा साथ हो कोई क्या नहीं कर सकता। इस बात को फिर एक बाद हैदराबाद के 8 वर्षीय बच्चे समन्यु पोथुराजू ने साबित कर दिखाया है। पोथुराजू ने ऑस्ट्रेलिया के सबसे ऊंचे पहाड़ Mount Kosciuszko की ऊंची चोटी पहुंच बहादुरी दिखाई। यही नहीं ये बहादुर बच्चा इससे पहले भी अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी फतह कर चुका है। खबरों के मुताबिक पोथुराजू के साथ मां लवन्या और बहन सहित 5 अन्य  12 दिसंबर पहाड़ के सबसे ऊंचे शिखर पर पहुंचे।

 


4 पहाड़ों को फतह


पोथुराजू बताते हैं कि वह अब तक इसत तरह के 4 पहाड़ों का फतह कर चुके हैं। उनका सपना जापान के माउंट फुजी पर चढ़कर कीर्तीमान बनाने का है। वह भारतीय एयरफोर्स में नौकरी कर देश की सेवा करना चाहता है। समन्यू और उसकी टीम ने पहाड़ को फतह करते वक्त तेलंगाना हैंडलूम का कपड़ा पहन रखा था। बताते चलें कि इसके पहले  समन्यू व उसकी मां, कोच के साथ ही टीम ने तंजानिया के माउंट किलिमान्जरो के उहुरू चोटी फतह की थी।

 


5895 मीटर ऊंचाई पर तिरंगा

 

समन्यु की टीम ने 2 अप्रैल 2018 को समुद्र तल से 5895 मीटर की ऊंचाई पर देश का तिरंगा फहराकर बहादुरी दिखाई थी। समन्यु अपनी बहादुरी के लिए इन सफलताओं का श्रेय अपनी माता लावन्या और कोच थाम्मिनेनी भारथ को देते हैं। उनकी मां और कोच दोनों ही जीवन में अनुभव और प्रेरणा देते हैं। बताते चलें कि समन्यु माउंट किलिमान्जरो पर चढ़कर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाते हुए कीर्तीमान बनाया था। गौरतलब है कि पहले ये रिकॉर्ड सबसे कम उम्र में अमेरिका के मोन्टन्ना केन्ने के नाम था। इस रिकॉर्ड को 3 दिन कम उम्र में समन्यु ने तोड़ अपने नाम कर लिया।

 

 

यह भी पढ़ें: पटना : यहां धर्म-जाति के आधार पर अलग-अलग क्लास में बैठते हैं छात्र

 

यह भी पढ़ें: BJP और नीतीश कुमार के घमंड के चलते छोड़ा NDA : उपेंद्र कुशवाहा

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी