अगस्ता-वेस्टलैंड : अन्य आरोपियों को पूछताछ का नोटिस जारी करेगी CBI

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्ली। अगस्ता-वेस्टलैंड मामले में कथित बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल के शिकंजे में आने के बाद अब सीबीआई ने अपनी कार्रवाई तेज की है। अब इस मामले में सीबीआई अन्य आरोपियों को पूछताछ का नोटिस जारी करेगी। इस मामले में गौतम खेतान और पूर्व एयर मार्शल एसपी त्‍यागी गिरफ्तार किये गये थे।

सीबीआई जल्‍द ही त्‍यागी बंधुओं को भी पूछताछ के लिए नोटिस जारी करेगी। इस मामले में अब सीबीआई की टीम मिशेल और अन्‍य आरोपियों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करने की तैयारी कर रही है। फिलहाल सीबीआई मिशेल को पांच दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है।

वीवीआईपी चॉपर घोटाले में दलाली के मुख्य अभियुक्त क्रिश्चियन मिशेल को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया। अदालत ने पूरे मामले के सुनवाई के क्रिश्चियन मिशेल को पांच दिन के लिए सीबीआई की हिरासत में भेज दिया। अब अगले पांच दिन सीबीआई क्रिश्चियन मिशेल हेलिकॉप्टर घोटाले की दलाली का सच उगलवाने की कोशिश करेगी। गौरतलब है कि क्रिश्चियन मिशेल को दुबई से प्रत्यर्पित करके भारत लाया गया था।

यह पहला मौका है जब रक्षा सौदे के किसी विदेशी दलाल का प्रत्यर्पण करके भारत लाया गया है। इसलिए इसे मोदी सरकार की एक बड़ी कामयाबी माना जा रहा है। अगुस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे में बिचौलिये की भूमिका निभाने वाले मिशेल को सीबीआई ने कडी सुरक्षा के बीच दिल्ली की पटिय़ाला हाउस अदालत में पेश किया गया। अदालत ने मामले को सुनने के बाद मिशेल को 5 दिन के लिए CBI कस्टडी में भेज दिया।

अब अगले पांच दिन CBI मिशेल से पूछताछ करेगी। इससे पहले मंगलवार रात करीब ग्यारह बजे भारत लाने के बाद मिशेल को सीबीआई मुख्यालय लाया गया। मंगलवार देर रात से लेकर बुधवार दिन भर सीबीआई मिशेल से पूछताछ करती रही। मिशेल का प्रत्यर्पण भारत के लिए बडी कूटनीतिक जीत है और इससे अगुस्ता वेस्टलैंड सौदे की परतें खुल सकती हैं । पीएम मोदी ने भी इसे बडी कामयाबी बताते हुए कहा है कि इससे तमाम राज खुलेंगे ।

इस बीच मिशेल के वकील का कांग्रेस कनेक्शन सामने आया है। मिशेल का वकील एल्जो जोसेफ युवा कांग्रेस के लीगल सेल का राष्ट्रीय प्रभारी है । बीजेपी ने इसको लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। क्रिश्चियन मिशेल जेम्स ब्रिटिश नागरिक है और 3,600 करोड़ रुपये के अगुस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे का बिचौलिया है। अगुस्ता वेस्टलैंड को ठेका दिलाने और भारतीय अधिकारियों को गैरकानूनी कमीशन या रिश्वत का भुगतान करने के लिए बिचौलिए के तौर पर मिशेल की संलिप्तता 2012 में सामने आई। जांच के लिए मिशेल की जरुरत थी लेकिन वो फरार हो गया और जांच में शामिल होने से बच रहा था। उसके खिलाफ पिछले साल सितंबर में आरोपपत्र दायर किया गया।

अदालत से जारी वारंट के आधार पर इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया जिससे फरवरी 2017 में उसे दुबई में गिरफ्तार कर लिया गया। दुबई में अपनी गिरफ्तारी के बाद से जेल में था ।

भारतीय जांच एजेंसियों ने जून 2016 में मिशेल के खिलाफ दायर अपने आरोप-पत्र में आरोप लगाया था कि उसने अगस्ता वेस्टलैंड से करीब 295 करोड़ रुपये प्राप्त किए। आरोप है कि मिशेल ने सह-आरोपियों के साथ मिलकर अगुस्ता सौदे में आपराधिक षडयंत्र रचा। सह आरोपी में तत्कालीन वायुसेना प्रमुख एस पी त्यागी और उनके परिवार के सदस्य शामिल हैं। षड्यंत्र के तहत लोक सेवकों ने वीवीआईपी हेलीकॉप्टर की उड़ान भरने की ऊंचाई 6000 मीटर से घटाकर 4500 मीटर कर अपने सरकारी पद का दुरुपयोग किया।

भारत सरकार ने आठ फरवरी 2010 को भारतीय वायुसेना के लिए 12 वीवीआईपी हेलि‍कॉप्टर  खरीदने के लिए रक्षा मंत्रालय के जरिए ब्रिटेन की अगुस्ता वेस्टलैंड इंटरनेशनल लि़मिटेड को लगभग 55.62 करोड़ यूरो का ठेका दिया था। मिशेल अगुस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर्स का सलाहकार बताया जाता है। वह कथित तौर पर बार-बार भारत आता रहता था और भारतीय वायुसेना तथा रक्षा मंत्रालय में सेवानिवृत्त तथा मौजूदा अधिकारियों समेत विभिन्न स्तरों पर सूत्रों के एक बड़े नेटवर्क के जरिए रक्षा खरीद के लिए बिचौलिए के तौर पर काम कर रहा था। विवाद के बाद जनवरी 2014 में भारत सरकार ने करार को रद्द कर दिया।  

मिशेल का दुबई से आना इतना आसान नहीं था लेकिन केंद्र सरकार और सीबीआई की कोशिशें रंग लाई। मिशेल को भारत लाने के अभियान का कूट नाम ''यूनिकॉर्न'' था। इस अभियान को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के दिशानिर्देश में चलाया गया और इसका समन्वय सीबीआई के अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव कर रहे थे। एजेंसी के संयुक्त निदेशक साई मनोहर के नेतृत्व में अधिकारियों की एक टीम मिशेल को लाने के लिए दुबई गई थी। प्रत्यर्पण की प्रक्रिया पूरी करने के बाद मिशेल को भारत वापस लाया गया। दुबई सरकार ने उसे प्रत्यर्पित करने की मंजूरी दे दी थी। 

आने वाले दिनों सीबीआई मिशेल से तमाम और सवाल पूछ उससे राज उगलवाने की कोशिश करेगी। इसके बाद वीवीआईपी हेलिकॉप्टर सौदे की चल रही सीबीआई जांच में तेजी आने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें: अगस्ता वेस्टलैंड सौदा : माइकल से CBI कर रही पूछताछ, हो सकते हैं बड़े खुलासे

यह भी पढ़ें: 'जनता के पैसों' वापस करने को तैयार हुआ माल्या!

 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी