सुपारी लेकर देश को खत्म करने की कोशिश बंद करें राहुल गांधी : BJP

Foto

India News / भारत समाचार

दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरएसएस के खिलाफ की गई टिप्पणी पर बीजेपी ने उनसे माफी की मांग की है। बीजेपी ने कहा कि राहुल गांधी विदेश में देश का सम्मान कम कर रहे है। साथ ही कहा कि उन्हें सुपारी लेकर हिन्दुस्तान को खत्म करने की कोशिश बंद कर देनी चाहिए। पार्टी ने कहा कि राहुल गांधी को देश के 125 करोड़ लोगों से माफी मांगनी चाहिए। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गौरवशाली, वैभवशाली हिन्दुस्तान पर निरंतर आक्रमण करने का काम बंद करें।

यह भी पढ़ें: 8 साल पहले दो दलितों को जिंदा जलाया था, आज फैसला आया

बता दें कि राहुल गांधी ने लंदन से आरएसएस पर हमला करते हुए कहा था कि आरएसएस की सोच अरब देशों के मुस्लिम संगठन मुस्लिम ब्रदरहुड जैसी है। आरएसएस भारत की प्रकृति को बदलने की कोशिश कर रहा है। साथ ही कहा कि भारत में किसान आत्महत्या करते जा रहे है और नौजवान अपने लिए बेहतर भविष्य नहीं देख पा रहे है। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि केवल लंबे-लंबे भाषण दिए जा रहे है और केवल नफरत पैदा की जा रही है।

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी का बीजेपी पर हमला डोकलाम मामले को बताया बीजेपी का फेलियर

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बयानों पर बीजेपी ने करारा पलटवार किया है। राहुल गांधी द्वारा आरएसएस की मुस्लिम ब्रदरहुड से तुलना को संबित पात्रा ने निंदनीय बताया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष का यह बयान उनकी अपरिपक्वता को दर्शाता है।  मुस्लिम ब्रदरहुड एक आतंकी संगठन है और राहुल गांधी को इसकी जानकारी भी नहीं है। संबित पात्रा ने कहा कि पहले आईएसआईएस और अब मुस्लिम ब्रदरहुड से तुलना करने पर राहुल गांधी देश से मागी मांगे। 

यह भी पढ़ें: पटाखों पर नहीं लगेगा पूर्ण प्रतिबंध...

भारतीय अर्थव्यवस्था पर राहुल के बयान पर भी बीजेपी ने कड़ी टिप्पणी की। बीजेपी ने कहा कि दुनिया की तमाम संस्थाएं मान चुकी है कि भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है। अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों के अनुमान के मुताबिक 2020 से पहले भारत ब्रिटेन को पीछे छोड़कर आकार की दृष्टि से दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगी। लेकिन राहुल गांधी विदेशों मे जाकर देश का अपमान कर रहे है। साथ ही कहा कि राहुल एक सकारात्मक और रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभाने में नाकाम रहे है।

 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी