भाजपा ने धूमधाम से मनाई डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की जयंती

Foto

भारत के समाचार

 

लखनऊ। भाजपा ने  जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की जयंती धूमधाम से मनाई । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने देश की राजधानी दिल्ली में श्यामाप्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी चिकित्सालय (सिविल अस्पताल) स्थित उनकी प्रतिमा पर राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माल्यार्पण किया। इस कार्यक्रम के दौरान भाजपा के कई मंत्री और विधायकों के साथ भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।

 

यह भी पढ़ें- सुशासन के लिए स्वशासन संस्थाओं को मजबूत करने की जरूरत:राजनाथ

 

श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जन्म 6 जुलाई, सन् 1901 को हुआ था। श्यामा प्रसाद मुखर्जी और दीनदयाल उपाध्याय का नाम भारतीय जनता पार्टी के नायकों में सबसे ऊपर आता है। मौजूदा दौर की राजनीति में बीजेपी के लिए दीनदयाल उपाध्याय जहां वैचारिक बल देते हैं, तो वहीं श्यामा प्रसाद मुखर्जी सियासी तौर पर ज्यादा मुफीद नजर आते है। जम्मू-कश्मीर में श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने धारा 370 का विरोध शुरू किया। उन्होंने एक देश में दो विधान, एक देश में दो निशान, एक देश में दो प्रधान- नहीं चलेंगे नहीं चलेंगे जैसे नारे दिए। देश की एकता और अखंडता को लेकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने आंदोलन चलाया।

 

यह भी पढ़ें- JNU विवाद- कन्हैया, खालिद को नहीं मिली राहत, देना होगा जुर्माना

 

बता दें कि, भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370 में यह प्रावधान किया गया था कि, कोई भी भारत सरकार से बिना अनुमति लिए हुए जम्मू-कश्मीर की सीमा में प्रवेश नहीं कर सकता। मुखर्जी इस प्रावधान के सख्त खिलाफ थे। इसे लेकर उन्होंने आंदोलन शुरू किया और कश्मीर के लिए रवाना हो गए। जम्मू-कश्मीर सरकार ने राज्य में प्रवेश करने पर मुखर्जी को 11 मई 1953 को हिरासत में ले लिया। इसके कुछ समय बाद 23 जून 1953 को जेल में उनकी रहस्यमयी तरीके से मौत हो गई।

 

 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी