बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने पीसी में क्या क्या कहा, जानें

Foto

 
National News/भारत के समाचार 

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने भाजपा प्रदेश मुख्यालय में कांग्रेस की महापौर प्रत्याशी रही प्रेमा अवस्थी को भारतीय जनता पार्टी में शामिल करते हुए कहा कि शीर्ष नेतृत्व के निर्णय तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सबका साथ-सबका विकास के कार्यो एवं नीतियों में आस्था प्रकट करने वाली प्रेमा अवस्थी को भाजपा परिवार में शामिल होने पर हम उनका स्वागत करते है। प्रेमा अवस्थी का प्रदेश महामंत्री विद्यासागर सोनकर ने भाजपा पट्टिका पहिनाकर अभिनंदन किया। 

पत्रकारों से चर्चा करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने क्या कहा  

1 लोकसभा चुनाव के तीन चरण हो चुके है, हर चरण के बाद उत्तरोत्तर भाजपा और नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जनता का जनमानस प्रबल होता हुआ दिखाई पड़ रहा है।
2 लोकसभा चुनाव में भाजपा की सीटे 300 के पार पहुंचेंगी, यह स्पष्ट दिखाई दे रहा है।
3 उत्तर प्रदेश में तीन चरणों के चुनाव के बाद तीनों दलो के हौसले पस्त होते हुए दिख रहे है।  
4 पहले चरण के बाद विपक्ष के अनर्गल और व्यक्तिगत बयान सामने आने लगे थे।
5 दूसरा चरण समाप्त होने के बाद ईवीएम का विषय जिस तरह से विपक्ष ने उठाने की कोशिश की और तीसरे चरण के बाद विपक्ष द्वारा ईवीएम का मुद्दा शीर्ष स्तर से उठाया जाने लगा, यह उनकी अवश्यंभावी पराजय की स्वीकारोक्ति है।
6 विपक्ष द्वारा पराजय के लिए अभी से ईवीएम का बहाना खोजने का आधार सामने आ रहा है।
7 भाजपा बिहार, दिल्ली, गोरखपुर, फूलपुर, कैराना, पंजाब, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ आदि में चुनाव हारी तब विपक्ष की नजर में ईवीएम ठीक थी, अब अचानक विपक्ष को ईवीएम में गड़बड़ी नजर आने लगी। इसका मतलब सबकुछ ठीक है, विपक्ष को अपनी पराजय नजर आने लगी है इसलिए विपक्ष इस तरह के बहाने गढ़ रहा है।
8 सपा-बसपा अपनी जमीन बचाने के लिए चुनाव मैदान में है तथा कांग्रेस अपनी हैसियत बचाने के लिए चुनाव मैदान में है।
9 चार महीने पहले कांग्रेस ने तीन राज्य जीते थे और कांग्रेस ने बड़े गर्व से कहा था कि बड़ा परिवर्तन नजर आ रहा हैं लेकिन कांग्रेस की उत्तर प्रदेश में वह हालत हो गई कि गठबंधन उन्हें उत्तर प्रदेश में तीन सीटे देने को राजी नहीं हुआ।
10 सरकार बनाने के लिए सिर्फ भारतीय जनता पार्टी चुनाव मैदान में है।
11 उत्तर प्रदेश की सरकार ने दो वर्ष के कार्यकाल में विकास के शानदार कार्य तथा कानून व्यवस्था में बड़ा सुधार किया। किसानों, श्रमिकों एवं निर्धन वर्गो के कल्याण की योजनाओं को बनाकर उन्हंे क्रियान्वित किया। जिससे गरीबों, किसानों,       दलितो और मजदूरों की आर्थिक स्थिति पहले से बेहतर हुई और उनका सामाजिक स्तर भी ऊंचा उठा।
12 मोदी के नेतृत्व में भारत के स्वरूप को बदलने का जो अभियान चल रहा है उसको उ0प्र0 में योगी सरकार के द्वारा बल मिला है। 
13 उत्तर प्रदेश की जनता राजनीतिक दृष्टि से बहुत विवेकशील है। जनता इस बात को भलीभांति समझती है कि कौन-कौन किस कारण से चुनाव मैदान में है। जनता सशक्त भारत बनाने के लिए सकारात्मक दृष्टि से भाजपा को वोट करेगी। 
14 शत्रुघन सिन्हा कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे है और लखनऊ में आकर उन्हें पीएम मटेरियल अखिलेश यादव में दिखने लगा। अभी तक गठबंधन सहयोगी ही राहुल जी की नेतृत्व क्षमता पर प्रश्न चिन्ह लगा रहे थे लेकिन अब तो कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी ने ही उनके नेतृत्व पर दिया हे। 
15 अखिलेश यादव कहते है कि उत्तर प्रदेश से ही प्रधानमंत्री होगा। मैं उन्हें आश्वस्त करता हूॅ कि उत्तर प्रदेश से ही पीएम है और उत्तर प्रदेश से वही पीएम रहेंगे।
16 विपक्ष का आधार विहीन गठबंधन, चेहरा विहीन नेतृत्व और दिशा विहीन गति है।
17 विपक्ष किसी भी दशा में देश व प्रदेश को सही दिशा में ले जाने में सक्षम नहीं है।   

यह भी पढ़ें    तीसरे चरण में 117 सीटों पर 66 फीसदी वोटिंग सम्पन्न    

यह भी पढ़ें    लखनऊ यूनिवर्सिटी, पीजी प्रवेश परीक्षाओं की डेट जारी, यहां देखें परीक्षा ! 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी