बीजेपी को काम रोको की बीमारी है,गठबन्धन के पक्ष में वोटों का तूफान आने वाला है, अखिलेश ​

Foto

National News/भारत के समाचार

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि लोकसभा चुनाव 2019 हमारे और आपके देश के भविष्य से जुड़ा है। सपा-बसपा गठबन्धन से ताकत बढ़ी है और इससे महापरिवर्तन आएगा। भाजपा जाति-धर्म की लड़ाई कराकर लोगों को तरक्की के रास्ते पर बढ़ने से रोकने का काम करती है। अब इनकी चैकी छीननी है। उन्होने कहाकि भाजपा से सावधान रहने की जरुरत है क्योकि झूठ और अफवाह फैलाने में ये माहिर हैं। पहले चायवाला बने अब चैकीदार बन रहे हैं। अब गठबन्धन के पक्ष में वोटों का तूफान आने वाला है। भाजपा का केंद्र की सत्ता से इस आंधी-तूफान में जाना तय हो गया है।
       
कन्नौज का इतिहास सम्राट हर्षवर्धन के समय तक जाता है।

अखिलेश यादव ने रसूलाबाद, छिबराममऊ तथा फर्रुखाबाद में कन्नौज लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी डिम्पल यादव की चुनावी सभाओं को संबोधित किया। उन्होने भाजपा पर किसानों, नौजवानों, व्यापारियों, महिलाओं, अल्पसंख्यकों सहित समाज के सभी वर्गो को धोखा देने का आरोप लगाया और मतदाताओं से समाजवादी प्रत्याशी को ऐतिहासिक जीत दिलाने की अपील की। इस अवसर पर प्रत्याशी डिम्पल यादव भी थी।
       
कन्नौज से लोकसभा प्रत्याशी डिम्पल यादव ने कहा कि कन्नौज में विकास ही उनकी प्राथमिकता रहेगी। समाजवादी सरकार ने ऐतिहासिक काम किए। देश में नोटबंदी से आतंकवाद, नक्सलवाद तथा अत्याचार नही बंद हुए। उन्होने कहा कि जनता ने उन्हें सांसद चुनकर एक मौका दिया था। अब गठबन्धन का साथ है तो सबसे ज्यादा वोटों से जीत की उम्मीद बंधी है। अखिलेश ने अपने भाषण के प्रारम्भ में कहा कि कन्नौज का इतिहास सम्राट हर्षवर्धन के समय तक जाता है। समाजवादी इतिहास में पहचान यहीं से जिले की बनी। डॉ राममनोहर लोहिया यहीं से लोकसभा में निर्वाचित हुए थे। हमारा भी पुराना रिश्ता रहा है। डिम्पल पिछली बार निर्विरोध जीती थी। यह भी एक इतिहास है
      
मोदी सरकार में 36 हजार से ज्यादा उधोगपति विदेश भाग गए, अखिलेश
      
अखिलेश ने कहा कि पीएम मोदी अच्छे दिनों के वादे कर गए पर ये दिन कहां है, अच्छे दिन चोरी हो गए। नौकरी, रोजगार नहीं। किसान के खाद और यूरिया की बोरी से 5 किलो की चोरी हो गई। किसान की आय दुगुनी कहां हुई? आलू बर्बाद हुआ। नोटबदी से व्यापार, कोल्ड स्टोरेज बंद हो गए। जीएसटी से उधोग धन्धे चैपट हो गए। कालाधन वापस नहीं आया बल्कि बैंको में जो धन जमा था उसे लेकर 36 हजार से ज्यादा उधोगपति विदेश भाग गए। 
      
वर्तमान के हालात में नौजवानों के भविष्य में कोई बदलाव नहीं होने वाला है। भाजपा नया देश नहीं बना सकती। गठबन्धन ही नया देश और नया प्रधानमंत्री बनाएगा। उन्होने कहा जानवरों को गलाघोंटू बीमारी होती है भाजपा को कामरोको की बीमारी है। उन्होने कहा कि उनके कार्यकाल में 70 हजार भर्तियां हुई थी। प्राइमरी के बच्चों को दूध, फल देना शुरु किया था। भाजपा राज में उन्हें फटे स्वेटर मिले। अस्पतालों में न डाक्टर है न दवाएं हैं। उन्होने कहा हमने सपेरों का गांव बसाया उन्हें आगे पेंशन और आवास भी देगें। अखिलेश ने कहा कि जाति गणना हो जाए तो समाज में संख्या अनुपात में भागीदीरी तय हो सकती है। इससे सामाजिक न्याय पूरा होगा और यह महापरिवर्तन है।   

यह भी पढ़ें:   लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण की कुल 95 सीटों पर आज मतदान       

यह भी पढ़ें:   अधिकांश राजनीतिक दल मात्र पारिवारिक संगठन बनकर रह गये है, जेपीएस राठौर   

 

 

 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी