हौसलों की उड़ानः चाय वाले की बेटी अब चूमेगी आसमान ...

Foto

 

भारत के समाचार, India news

 

कहते हैं मंजिल उन्ही को मिलती है जिनके सपनो में जान होती है, पंखों से कुछ नहीं होता हौसलों से ही उड़ान होती है। मध्य प्रदेश के नीमच जिले की रहने वाली 24 वर्षीय आंचल गंगवाल पर यह बात बिलकुल सटीक बैठती है। आंचल गंगवाल का चयन भारतीय वायुसेना के फ्लाइंग ब्रांच में हो गया है यानी अब आंचल भारतीय वायुसेना में फाइटर प्लेन उड़ाएगी। कई बार के प्रयासों में असफल रहने के बाद आंचल ने हार नहीं मानी और उसने अपना प्रयास निरंतर जारी रखा और अंत में उसने सफलता पाकर ही दम लिया। 

 

यह भी पढ़ें: सामने आया सपना चौधरी का कांग्रेस प्रेम

 

आंचल ने बताया कि जब वह 12वीं में थी, तब उत्तराखंड में बाढ़ आई थी और सुरक्षा बलों ने जिस तरह से बाढ़ प्रभावितों को बचाया था उससे वह काफी प्रभावित हुई थी। तभी उन्होंने सेना में जाने का मन बना लिया था। मगर उस वक्त आंचल के परिवार की स्थिति सही नहीं थी। 

 

यह भी पढ़ें: खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा कर्नाटक का नाटक

 

परीक्षा को लेकर आंचल का कहना है कि एयर फोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट पास करना उसके लिए आसान काम नहीं था। सालों से वह मेहनत कर रही थी, उसने पांच बार इंटरव्यू को फेस किया। मगर छठी बार में सफलता हासिल की। बता दें कि नतीजे 7 जून को घोषित किये गये हैं। खास बात है कि इस परीक्षा में देश भर में चुने गये 22 चयनित कैंडिडेट में से आंचल एक है और मध्य प्रदेश से आने वाली इकलौती। बता दें कि करीब 6 लाख स्टूडेंट्स इस परीक्षा में शामिल हुए थे। 

 

यह भी पढ़ें: बहुत कुछ कहते हैं बीजेपी की तारीफ के 'अमर' कसीदे

 

आंचल के पिता सुरेश गंगवाल नीमच बस स्टैंड के पास चाय की दुकान चलाते हैं। उन्होंने कहा कि अब इस इलाके के सभी मेरे 'नामदेव टी स्टॉल' के बारे में जानने लगे हैं और मुझे काफी खुशी होती है जब लोग आते हैं और मुझे बधाई देते हैं। सुरेश का कहना है कि उन्होंने अपने तीनों बच्चों की पढ़ाई के आगे वित्तीय स्थिति को कभी बाधा नहीं बनने दिया।

 

यह भी पढ़ें: जो भारत के बंटवारे की बात करेगा उसे देश छोड़ना होगाः नकवी

 

आंचल के पिता ने आंचल को इंदौर में कोचिंग क्लास लेने के लिए कर्ज लिया और उसे इंदौर भेजा। साथ ही उन्होंने अपने बड़े बेटे की इंजीनियरिंग के लिए भी कर्ज लिये। उनकी छोटी बेटी अभी 12वीं में है। बता दें कि आंचल को हैदराबाद के डुंडीगुल एयर फोर्स एकेडमी में 30 जून तक रिपोर्ट करने को कहा गया है। 
 

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी