दलितों को जोड़ेगी कांग्रेस, 2019 में चलाएगी ‘संविधान से स्वाभिमान’ अभियान

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्ली। आगामी लोकसभा चुनाव से पहले दलित समुदाय को अपने पक्ष में लामबंद करने के मकसद से कांग्रेस 'संविधान से स्वाभिमान' अभियान शुरू करने जा रही है। इस अभियान के तहत कांग्रेस पार्टी के नेता और कार्यकर्ता नरेंद्र मोदी सरकार की 'दलित एवं संविधान विरोधी नीतियों' के बारे में लोगों को बताएंगें।

पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा स्वीकृत इस अभियान के अंतर्गत अगले 90 दिनों तक गांव-गांव जाकर दलित समाज के लोगों के साथ सीधा संपर्क साधा जाएगा तथा छोटे-बड़े सम्मेलनों का भी आयोजन किया जाएगा।

2019 के लिए दलित समाज को अपने पक्ष में लामबंद करने के मकसद से इस अभियान का क्रियान्वयन कांग्रेस पार्टी का अनुसूचित जाति विभाग कर रहा है। इसकी औपचारिक शुरुआत सोमवार को दिल्ली से होगी और यह अभियान अगले साल फरवरी महीने के मध्य तक चलेगा।

पार्टी के अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष नितिन राउत ने एक मीडिया एजेंसी से बातचीत करते हुए बताया, 'कांग्रेस अध्यक्ष की मंजूरी के बाद हम 'संविधान से स्वाभिमान' अभियान शुरू करने जा रहे हैं। इस अभियान के जरिए हम दलित समाज का स्वाभिमान जगाएंगे और उन्हें बताएंगे कि मोदी सरकार किस तरह से बाबा साहेब द्वारा बनाए गए संविधान पर हमले कर रही है।'

उन्होंने कहा, 'हम गांव-गांव जाएंगे और देश भर में सम्मेलन करेंगे। हमारे नेता दलित समाज को मोदी सरकार की दलित एवं संविधान विरोधी नीतियों के बारे में बताएंगे।' राउत ने कहा कि पार्टी की ओर से, मोदी सरकार के 'दलित एवं संविधान विरोधी कदमों' को लेकर पर्चे भी छपवा कर बांटे जाएंगे।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में गरजे पीएम मोदी, कहा - 'कांग्रेस को लोगों को गुमराह करने के अलावा कुछ आता नहीं'

यह भी पढ़ें: 2019 लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी सुषमा स्वराज

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी