डायरेक्टर ने पीएम मोदी को दी नसीहत, बोलने से पहले सलाह लें

Foto

National News/भारत के समाचार 

नई दिल्ली। देशभर में लोकसभा चुनाव को लेकर सियासी घमासान इस कदर जारी है कि मर्यादा और सभ्यता को नेता भूल चुके हैं। देश को शिक्षित बनाकर शिखर तक ले जाने की बात तो भाषणों में करते हैं। लेकिन वह जो बोलते हैं, शायद उन्हें यह भी मालूम नहीं कि इस तरह की भाषाओं का प्रयोग तो अनपढ़ भी नहीं करते। हैरान करने वाली बात है कि पीएम मोदी से लेकर सीएम योगी व अन्य नेता अपनी बदजुबानी से गंगा जमुनी तहजीब को चोट पहुंचा चुके हैं। हालांकि, इस बदजुबानी पर हर नेताओं को आलोचनाएं भी झेलनी पड़ चुकी है। लेकिन चिंताजनक बात है कि सत्ता का लालाच इस कदर नेताओं के सर पर सवार है कि आलोचना जैसी बातों का भी कोई असर नेताओं पर नहीं हो रहा। 

हाल में ही पीएम नरेन्द्र मोदी एक इंटरव्यू को लेकर चर्चा में आ गए हैं। इंटरव्यू में जिस तरह का पीएम ने बयान दिया उसकी हर तरफ आलोचना हो रही है। दरअसल, पीएम ने बालाकोट एयरस्ट्राइक की योजना को लेकर दावा किया कि 'जब ये योजना बन रही थी, तब मैंने विशेषज्ञों को एक सुझाव दिया था। उन्होंने विशेषज्ञों को ये सलाह दी थी कि आसमान में छाए बादल और बारिश पाकिस्तानी रडार से बचने के लिए मददगार हो सकते हैं। 

पीएम का ये बयान सामने आते ही सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना शुरू हो गई। यहां तक कि मशहूर म्यूजिक डॉयरेक्टर विशाल डडलानी ने भी पीएम के बयानों की आलोचना करते हुए ट्वीट किया है। विशाल ने लिखा कि पीएम मोदी जी, कुछ नागरिकों का विनम्र निवेदन है कि विज्ञान वास्तविक है। आप बोलने से पहले कृपया विशेषज्ञों से राय ले लिया करें। भारत को शर्मिंदा नहीं करें। जब तक लोकसभा चुनाव का परिणाम नहीं आ जाता आप देश के पीएम हैं। देश के सम्मान की चिंता करें धन्यवाद। 

बताते चलें कि डडलानी का ये ट्वीट आने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स अपनी अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। वहीं, विशाल के कामों की बात करें तो वह बॉलीवुड के दबंग सलमान की अपकमिंग फिल्म 'भारत' के सांग्स को लेकर सुर्खियों में हैं। फिल्म 'भारत' के गाने लोगों को खूब भा रहे हैं। बता दें कि यह फिल्म ईद पर रिलीज होगी।

यह भी पढें:लोकसभा चुनाव के छठे चरण में बंगाल अव्वल, तो उत्तर प्रदेश में कम रही वोटिंग 

यह भी पढें:भाजपा का भाषण शौचालय से शुरू और शौचालय पर खत्म होता है

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी