जीएसटी-नोटबंदी ने घरेलू अर्थव्यवस्था को चैपट कर दिया, राजेंद्र चौधरी

Foto


     

National News/भारत के समाचार 

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने कहा है कि 19 मई को लोकसभा चुनाव-2019 के सातवें और अंतिम चरण का मतदान होना है। सत्तादल द्वारा सरकारी तंत्र के दुरूपयोग की तमाम शिकायतों के बावजूद प्रदेश के मतदाताओं ने विगत 6 चरणोें के मतदान में समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और रालोद गठबन्धन के प्रति अपना विश्वास जताते हुए उसके पक्ष में भारी मतदान कर नया रिकार्ड बनाया है। हमें भरोसा है कि कल के मतदान में भी मतदाता गठबन्धन को पूर्ववत अपना समर्थन-सहयोग देगें।
      
अखिलेश यादव और मायावती ने 21 संयुक्त जनसभाएं की।

सत्तादल ने अपनी अहंकार में जनभावनाओं की उपेक्षा करते हुए बहकाने-भटकाने वाले मुद्दों को तरजीह दी जबकि गठबन्धन ने गरीबी, बेकारी के साथ किसानों, नौजवानोें और समाज के वंचित वर्ग की आवाज पुरजोर तरीके से उठाई। सघन जनसंपर्क करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने 21 संयुक्त जनसभाएं की। अखिलेश यादव ने 48 एकल जनसभाओं को संबोधित किया। इस अभियान में सांसद डिम्पल यादव की भी प्रमुख भूमिका रही। उन्होने कन्नौज, लखनऊ और इलाहाबाद में 3 रोड शो और कन्नौज मेें डिम्पल यादव तथा मैनपुरी सांसद तेज प्रताप सिंह यादव ने दो चुनावी सभाओं में भागीदारी की।
      
भाजपा सरकार की उदासीनता से जनता परेशान है।

सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने कहा कि अखिलेश यादव की चुनावी जनसभाओं को सुनने के लिए किसान, छात्र-नौजवान, महिलाएं, बूढ़े-बच्चे सहित समाज के सभी वर्गो में उत्साह चरम पर रहा। भाजपा की केंद्र और राज्य सरकारोें की दोषपूर्ण नीतियों से जनता आक्रोशित है। जीएसटी-नोटबंदी ने घरेलू अर्थव्यवस्था को चैपट कर दिया। बुनियादी समस्याओं को दूर करने में भाजपा सरकार की उदासीनता से जनता परेशान है। यूपी की जनता समाजवादी सरकार में हुए विकास कार्यो को याद कर रही है। इसलिए अंतिम चरण में होने जा रहे मतदान में मतदाताओं ने महागठबन्धन के पक्ष में मन बना लिया है। 

भाजपा को सत्ता से बेदखल करके ही दम लेगी।

राजेंद्र चौधरी ने कहा कि देश में संवैधानिक संस्थाओं की गिरती विश्वसनीयता, संविधान द्वारा दिये गए अधिकारों की कटौती, दलितों, पिछड़ो, अल्पसंख्यकों, महिलाओं सहित समाज के कमजोर वर्गो पर हो रहे अत्याचारों से त्रस्त जनता का पूरा सहयोग महागठबन्धन को मिल रहा है। चौधरी ने कहा कि अखिलेश यादव के नेतृृत्व में पिछली समाजवादी सरकार ने उत्तर प्रदेश को विकास की गति पर ले जाने का कार्य किया था। लखनऊ, आगरा एक्सप्रेस वे, मेट्रो, समाजवादी पेंशन योजना, कन्या विद्याधन, लैपटाप योजनाए चली थीं जिससे बड़ी संख्या में लोग लाभान्वित हुए विकास कार्यो से उत्तर प्रदेश खुशहाली और प्रगति के रास्ते पर चल पड़ा था। जनता अब अपनी जिंदगी संवारना चाहती है, उसे जुमलों की दुनिया में भ्रमित होना पसंद नहीं। भाजपा को सत्ता से बेदखल करके ही दम लेगी।    

यह भी पढें  भारतीय को एच-1बी वीजा देने से किया इनकार,अमेरिकी सरकार पर हुआ मुकदमा   

यह भी पढें  प्रेमजाल में फंसाकर युवक ने 30 से ज्यादा महिलाओं से किया रेप

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी