राजस्थान : गुर्जर आंदोलन जारी, रेल पटरी-राजमार्ग बाधित

Foto

National News / राष्ट्रीय समाचार

नई दिल्ली। राजस्थान में गुर्जर आंदोलन जारी है। आंदोलन अब राज्य के धौलपुर, बूंदी और अन्य जिलों तक फैल गया है। आन्दोलनकारी राज्य की सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग कर रहे है।

प्रदर्शनकारियों ने करौली जिले के गुडला, भीलवाड़ा जिले के आसीन्ड बुंदी जिले के नैनवा में भी सड़क मार्ग अवरूद्ध कर दिया। पुलिस महानिरीक्षक कानून और व्यवस्था एम एल लाथर ने बताया कि विभिन्न स्थानों पर गुर्जरों के प्रदर्शन संबंधी पांच प्राथमिकी दर्ज की गई है। 

कैबिनेट मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने गुर्जर समाजके तीस लोगों की एक समिति बनाई है जो आंदोलनरत गुर्जर नेताओं और सरकार के बीच मध्यस्थता करेगी। इस बीच, राज्य मानव अधिकार आयोग ने सरकार से पूछा है कि गुर्जर आंदोलन से प्रभावित लोगों के लिए क्या कदम उठाये गये हैं। 

बता दें कि वर्तमान में गुर्जरों सहित पांच जातियां विशेष पिछड़ा वर्ग के तहत एक प्रतिशत आरक्षण की हकदार है। साथ ही गुर्जर अन्य पिछड़ा वर्ग में भी आरक्षण का लाभ ले रहे हैं। लेकिन उनकी मांग है विशेष पिछड़ा वर्ग में पांच प्रतिशत अलग से आरक्षण दिया जाए। 

इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुर्जर समाज से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कह कि कांग्रेस ने पहली भी उनकी बात सुनी थी और अब भी सुनेगी। गहलोत ने कहा, 'सरकार समाधान के लिए गंभीर है और गुर्जर नेताओं से बातचीत करने को तैयार है।'

यह भी पढ़ें: राजस्थान : आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर आंदोलन जारी, ट्रेनों की आवाजाही पर पड़ा असर

यह भी पढ़ें: दूसरे दिन भी जारी रहा धरना प्रदर्शन

leave a reply

भारत के समाचार

Live: ख़बरें सबसे तेज़

प्रमुख श्रेणी